C Language Kya Hai? C Language क्यों और कैसे सीखे?

C Language एक general-purpose, procedure oriented प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जिसको 1972 में Dennis Ritchie ने AT & T’S Bell Telephone Laboratories, US में developed किया था | Dennis Ritchie एक operating system बनाना चाहते थे जिसका नाम था Unix Operating System |

अगर आप एक Software Engineer बनना चाहते है तो आपको कुछ Programming Languages का knowledge (ज्ञान) होना बहुत जरूरी हो जाता है क्योंकि बिना किसी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को सीखे आप एक अच्छा सॉफ्टवेयर इंजीनियर नहीं बन सकते |

आप अपनी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सिखने की शुरूवात C Language से कर सकते है क्योंकि C Language बाकि सभी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की जननि कही जाती है जब आप C programming language अच्छे से सिख जायेंगे तो आपको बाकि सभी Programming Languages को सिखने में बड़ी ही आसानी होगी |

आज हम अपनी इस पोस्ट में जानेंगे की C Language Kya Hai? (What is C Language In Hindi), C Language का इतिहास क्या है? (History of C Language In Hindi), इसके फीचर्स क्या है (Features of C Language In Hindi), और सी इतना महत्वपूर्ण क्यों है? (Why C is So important) |

साथ ही आज मैं आपको ये भी बताऊंगा की आप बड़े ही आसान तरीके से सी लैंग्वेज को कैसे सिख सकते है (How to Learn C language in Hindi) तो आइये जानते है |

C Language Kya hai
C Language Kya Hai? (What is C Language in Hindi)

C Language Kya Hai? (What is C Language in Hindi)

C Language एक general-purpose, procedure oriented प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जिसको 1972 में Dennis Ritchie ने AT & T’S Bell Telephone Laboratories, US में developed किया था | Dennis Ritchie एक operating system बनाना चाहते थे जिसका नाम था Unix Operating System  |

खास बात ये है की हम सी लैंग्वेज की मदद से low level प्रोग्रामिंग कर सकते है, इस Feature के कारण C programming language का उपयोग System software बनाने के लिए किया जाता है जैसे Operating system, Device Driver, Compiler आदि |

C Language में बाकि सभी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बेसिक फीचर्स कवर हो जाते है जैसे – Variable, Data Types, Array, String, Function, Structure, Pointer, Loop, आदि जिसके कारन C language को बाकि सभी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का Mother Language कहा जाता है |

एक बार सी लैंग्वेज सिखने के बाद आप बाकि सभी Programming Languages को बड़े ही आसानी से सिख सकते है |


सी लैंग्वेज का इतिहास क्या है? (History of C Language in Hindi)

C Language बनने से पहले सन 1966 में Martin Richard नाम के एक व्यक्ति ने AT & T’S Bell Telephone Laboratories, US मे उस टाइम के सभी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बेसिक फीचर्स को Combine (जोड़ कर) करके BCPL नाम का एक Programming Language बनाया था जिसका पूरा नाम है – Basic Combine Programming Language |

BCPL बड़ा सॉफ्टवेयर बनाने के लिए उपयुक्त नहीं था साथ ही इसमें Low Level स्टाइल में coding किया जाता था |

Ken Thompson जो की Martin Richard के साथ ही AT & T’S Bell Telephone Laboratories में काम किया करते थे इन्होने 1969 में BCPL लैंग्वेज को सुधार करके B Language बनाई |

दरअसल Ken Thompson एक ऑपरेटिंग सिस्टम बनाना चाहते थे जिसको बनाने के लिए एक अच्छे प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की जरुरत थी और वो लैंग्वेज थी B Language | बी लैंग्वेज बनाने के बाद इन्होने Unix Operating System को बनाया |

AT & T’S Bell Telephone Laboratories में ही Dennis Ritchie भी काम किया करते थे जिन्होंने 1972 में C Language को बनाया और Ken Thompson से कहा अगर हम Unix Operating System को C Language की मदद से बनाये तो इसमें और भी ज्यादा फीचर्स ऐड कर सकते है जिसमे सबसे बड़ा Feature ऑपरेटिंग सिस्टम का पोर्टेबल होना था |

Dennis Ritchie Founder of C Language
Dennis Ritchie Founder of C Language

C Language की विशेषताएं (Features of C language in Hindi)

  1. C एक सरल और आसान Programming Language है |
  1. C Language में इंग्लिश जैसे Command/Instructions होते है जिसको पड़ना ,समझना, Code करना एक प्रोग्रामर के लिए बहुत ही आसान है |
  1. C एक Procedure Oriented प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है |
  1. C बहुत ही पॉवरफुल और Case Sensitive प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है |
  1. C Language Compiler based ,डायनामिक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है |
  1. C Language एक Middle level language है जिसके कारन इससे Low Level और High Level दोनों ही तरह की प्रोग्रामिंग की जा सकती है |
  1. सी भाषा ऑपरेटिंग सिस्टम और एम्बेडेड सिस्टम डेवलपमेंट करने में सबसे अधिक इस्तेमाल की जाने वाली प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है।
  1. सी लैंग्वेज काफी पोर्टेबल और पॉवरफुल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है | 
  1. सी लैंग्वेज एक Syntax Based Language  है | 
  1. सी एक जनरल पर्पस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जो बाकि सभी लैंग्वेज के बेसिक फीचर्स को कवर कर लेता है |

यहाँ पर मैंने सी लैंग्वेज के फीचर्स को बताया तो है, मगर हो सकता है कि आपमें से कुछ लोगो को कुछ चीजे जैसे – Case Sensitive programming language क्या है, Syntax Based Language क्या है आदि के बारे में समझ न आया हो | तो इनके बारे में अच्छे से जानने के लिए इसे पढ़े Features of C Language वाला इसमें मैंने सभी फीचर्स को अच्छे से समझया भी है |


सी इतना महत्वपूर्ण क्यों है? (Why C language is So important )

अगर आप एक collage स्टूडेंट है तो आपको C Language जरूर सीखनी चाहिए क्योकि सी लैंग्वेज आपके campus requirement प्रोसेस में काफी मददगार साबित होती हैं |

साथ ही अगर आपने अभी तक कोई प्रोग्रामिंग लैंग्वेज नहीं सीखी है तो आप C languge से शुरुवात कर सकते है क्योकि सी लैंग्वेज बाकि सभी लैंग्वेज के बेसिक फीचर को कवर कर लेता है जिससे आप आगे कोई भी Programming Language को बड़े ही आसानी से सिख सकते है |

C language अगर आपकी फर्स्ट प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है तो यकीं मानिये है आपको programming काफी अच्छे से समझ आ जाएगी क्योकि सी लैंग्वेज हमारे प्रोग्रामिंग स्किल को बिल्ड करने में काफी मददगार साबित होता है साथ ही सी लैंग्वेज हमे लॉजिक सोचना समझना सिखाता है |

C Language बहुत पुराना और पॉपुलर लैंग्वेज है सी लैंग्वेज पिछले 50 वर्षो से प्रोग्रामर ( programmer) के दिलो में अपनी जगह बनाये हुवे है इसका कारन ये है की सी लैंग्वेज बहुत फ़ास्ट है इसमें मशीन स्तर (Low Level) तक की प्रोग्रामिंग बड़े ही आसानी से की जा सकती है |

हमारे दैनिक जीवन के कई ऐसे सॉफ्टवेयर है जो की C language में बने है जिसका उपयोग हम कर तो रहे है मगर हमे पता भी नहीं होता की ये सॉफ्टवेयर किस लैंग्वेज में बने है | सी लैंग्वेज सिख के आप कुछ ऐसे ही सॉफ्टवेयर बना सकते है आइये जानते है सी लैंग्वेज से बने कुछ एप्लीकेशन के बारे में -:

  • Oracle और MySql डाटा बेस मैनेजमेंट का एक सॉफ्टवेर है जो की C Language में बना है|
  • लगभग सभी Device driver सी लैंग्वेज में बना है डिवाइस ड्राइवर वो टूल है जिसके जरिये आपके पेन ड्राइव के कंटेंट को पढ़ा जाता है |
  • आज की हॉट टेक्नोलॉजी एंड्राइड की Core library भी सी लैंग्वेज में लिखी गई है |
  • आज के समय के जितने भी ऑपरेटिंग सिस्टम है वो भी C language में बने है जैसे – Unix Operating System |
  • Web Browser के काफी पार्ट भी C Language में लिखे गए है|

तो ये कुछ ऐसे सॉफ्टवेयर थे जो की C language का प्रयोग करके बनाये गए थे और भी कई तरह के Software आप सी लैंग्वेज की मदद से बना सकते है तो आइये जानते है की सी लैंग्वेज से हम और किस किस तरह के सॉफ्टवेयर बना सकते है |

Applications of C Language | सी भाषा के अनुप्रयोग

अगर आपको कोई प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सिख रहे है और आपको पता नहीं है की आप उस लैंग्वेज को सिख कर क्या क्या बना सकते है तो आप वो लैंग्वेज सिख कर कुछ नहीं कर पाएंगे ऐसे में आपको पता होना चाहिए की आप उस लैंग्वेज को सिख कर क्या क्या करने वाले है तो चलिए जानते है की C language से आप क्या क्या बना सकते है |

  • आप C Language से एक अच्छा Operating System बना सकते है जैसे- Window , Linux , Mac क्योकि ये ऑपरेटिंग सिस्टम का major पार्ट सी लैंग्वेज में लिखा गया है |
  • C Language से आप Compiler बना सकते है जो प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को मशीन लैंग्वेज में कन्वर्ट करता है |
  • इससे आप Text Editor बना सकते है |
  • Utility Software बना सकते है |
  • Database Management वाला सॉफ्टवेयर बना सकते है जैसे – Oracle, Mysql आदि |
  • Device driver बना सकते है |

C Language कैसे सीखे? (How to learn C language in Hindi )

C Language भी एक नेचुरल लैंग्वेज की तरह ही है जैसे हम हिंदी या इंग्लिश सीखते है बिलकुल उसी तरह से हमे सी लैंग्वेज सीखनी है नेचुरल लैंग्वेज -जैसे हिंदी ,इंग्लिश दो इंसानो के बिच कम्युनिकेशन का जरिया है उसी तरह सी लैंग्वेज इंसान और कंप्यूटर के बिच कम्युनिकेशन का जरिया है |

तो C Language भी एक भाषा है जिसमे हम मशीन को कहते है की उसको करना क्या है जिस तरह से आपने बाकि नेचुरल लैंग्वेज को सीखी है बिलकुल कुछ वैसे ही हमे सी लैंग्वेज सीखनी है |

याद कीजिये जब आपने इंग्लिश या हिंदी सीखी होगी तो सबसे पहले आपने उसके बेसिक्स जैसे – Alphabets, Characters, Special Symbols सीखा होगा फिर आपने इसका उपयोग करके Word बनाना सीखा होगा फिर Word से Sentence और Sentence से Paragraph |

ठीक इसी तरह C Language में हम कुछ बेसिक जैसे –Tokens , Identifiers, Keyword, Instructions, बनाना सीखेंगे और जब हम Instructions बनाना सिख जायेंगे तब हम बनाने लगेंगे Programs और फिर सॉफ्टवेयर |

दोस्तों अगर आप C Language हिंदी भाषा में सीखना चाहते है तो आप हमारे C Language Tutorial को फॉलो जरूर करे जिसमे मैंने Basic से लेकर advanced तक सभी कुछ बड़े ही आसान तरीके से डिटेल्ड में समझया है और C Language का ये Course बिलकुल Free है इसमें आपको कोई पैसे देने की जरुरत नहीं |

कई दोस्त ऐसे होंगे जिनके पास Udemy जैसे प्लेटफार्म से महंगे-महंगे Courses लेने या फिर कोई कोचिंग इंस्टिट्यूट ज्वाइन करने के लिए पैसे नहीं है ऐसे में मेरा ये कोर्स उन सभी के लिया काफी मददगार साबित होगा | 

वो जिनकी इंग्लिश ज्यादा अच्छे से समझ नहीं आती तथा वो जिनको हिंदी में पढ़ना पसंद है और हिंदी में ही सी लैंग्वेज सीखना चाहते है उनके लिए भी ये काफी मददगार होगा |

इस Course के बारे में और ज्यादा जानने के लिए इस पोस्ट को देखे C language Tutorial in Hindi यहाँ आपको C programming language के सभी टॉपिक्स step by step मिल जाएगी |

अगर आपकी इंग्लिश थोड़ी अच्छी है तो मैं आपको ये कुछ वेबसाइट बताना चाहूंगा जहाँ से आप सी लैंग्वेज सिख सकते है |

ये तीन कुछ अच्छे वेबसाइट है जहाँ से आप सी लैंग्वेज सिख सकते है मगर ये सभी वेबसाइट इंग्लिश में है तो ऐसे में हो सकता है जिनको इंग्लिश में प्रॉब्लम है उनको इन वेबसाइट से सी लैंग्वेज सीखना मुश्किल हो जाये |

ऐसे में हम अपनी इस वेबसाइट पर ही आपको सी लैंग्वेज की Tutorial हिंदी में प्रदान करेंगे और हो सकते तो इनका नोट्स भी आपको प्रदान करेंगे |


Hello World Using C language

बस आपको सी प्रोग्रामिंग के बारे में थोड़ा सा उत्साह देने के लिए, मैं आपको एक छोटा पारंपरिक सी प्रोग्रामिंग हैलो वर्ल्ड का एक program बना के दिखा रखा हूँ |

#include<stdio.h>
int main()  
{
printf(“Hello World”);
return (0):
}

Output -:

Hello World

यहाँ पर आपको ज्यादा सोचने की जरुरत नहीं अभी के लिए आप बस इतना जान लीजिये की C Language में Programs कैसे लिखे जाते है आगे जब आप मेरे C language Tutorial In Hindi को पढ़ेंगे तब आपको इसके बारे में अच्छे से पता चल जायेगा |

मगर यदि आप सी लैंग्वेज के बेसिक को एक वीडियो में सीखना चाहते है तो उसके लिए आप निचे दिए गए इस वीडियो को देख सकते है इस वीडियो में मैंने ऊपर, जो प्रोग्राम बनाया है उसके कुछ बेसिक बातो को बताया गया है | जिससे इस वीडियो को देखने के बाद और मेरे इस पोस्ट C language Tutorial In Hindi को Follow करने के बाद आपकी बेसिक काफी क्लियर हो जाएगी |

Learn Basic of C Language in Hindi

 C Language Kya Hai? (What is C Language in Hindi)

C Language के बारे में कुछ Interesting Facts

  • C language को शुरुआत में C नहीं कहा जाता था। यह ALGO से विकसित होता है। C भाषा का विकास: ALGO -> BCPL -> B -> Traditional  C -> K & R C -> ANSI C -> ANSI / ISO C -> C99 -> C11 -> C18।
  • C एकमात्र ऐसे प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जो कंप्यूटर प्रोग्रामिंग इतिहास में सबसे लंबे समय तक मौजूद है।
  • C एक बहुत शक्तिशाली प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसमें High level और low level दोनों तरह की विशेषताएं हैं।
  • C language को कंप्यूटर प्रोग्रामिंग में पहली उच्च-स्तरीय भाषा (High Level Language) के रूप में देखा जाता है।
  • सबसे लोकप्रिय ऑपरेटिंग सिस्टम लिनक्स (Linux) का कर्नेल (Kernel) भी C Language में लिखा गया है।

FAQ -: Frequently Asked Questions

  1. क्या मुझे 2021 में सी लैंग्वेज सीखना चाहिए? (Should I Learn C Language in 2021?)

    हाँ,आपको 2021 में सी लैंग्वेज बिलकुल सीखना चाहिए क्योकि सी लैंग्वेज आपके प्रोग्रामिंग के बेसिक को ज्यादा मजबूत बनाता है जिससे की अगर आप आगे कोई और प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखते है तो उसे आप बड़े ही आसानी से सिख सकते है |

  2. C Language सीखने के लिए सबसे अच्छी किताबें कौन सी हैं? (What are the best books to learn C)

    अगर आप C language के लिए एक Book लेना चाहते है तो आप Yashavant Kanetkar की Book Let Us C ले सकते है या फिर S.K. Srivastava की Book C in Depth ले सकते है ये दोनों ही Books काफी अच्छी है |

  3. क्या मैं एक महीने में C भाषा सीख सकता हूँ?

    हाँ बिलकुल, आप C Language को एक महीने में बड़े ही आसानी से सिख सकते है इस एक माह में आप C Language के Basics को क्लियर करके फिर आप Advance के लिए जा सकते है |

  4. विंडोज के लिए सबसे अच्छा सी भाषा आईडीई / कंपाइलर कौन सा है?

    अगर आपका सिस्टम 32 bit का है तो आप Turbo C/C++ का उपयोग कर सकतेहै और अगर आपका सिस्टम 64 Bit का है तो फिर आप Code Blocks का उपयोग करे |

  5. इसे C नाम क्यों दिया गया? (Why was it named as C)

    इस प्रोग्रामिंग भाषा को C नाम दिया गया था क्योंकि कई ideas और principles, B नाम की पिछली प्रोग्रामिंग भाषा से लिए गए थे।


Conclusion

दोस्तों आशा करता हु कि आपको C Language Kya Hai (What is C language in Hindi) और C language Kaise Sikhe (How to learn C language in Hindi) से संबंधित सभी जानकारी आपको हमारी इस पोस्ट में मिल गई होगी और आपको और कही इसके बारे में सर्च करना नहीं पड़ेगा |

मैंने कोशिश की है कि आपको C Programming Language से संबंधित सभी जानकारी इस एक पोस्ट दू |

अगर आप सी लैंग्वेज का कम्पलीट Tutorial चाहते है तो मेरे इस पोस्ट C Language Tutorial In Hindi को देखे यहाँ आपको C Programming Language के सभी टॉपिक्स step by step मिल जाएगी |

दोस्तों आशा करता हु की आपको हमारी ये पोस्ट पसंद आयी होगी अगर आपको ये पोस्ट पसंद आयी है तो आप इस पोस्ट को अपने अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी ये जानकारी प्राप्त हो सके |

अगर आपको अभी भी C Language Kya Hoti Hai? (What is C language in Hindi) और C Language Kaise Sikhe से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप जरूर बताये मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

एसी ही नया टेक्नोलॉजी ,Programming Language , Coding , C Language, C++, Python Course, Java Tutorial से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट  masterprogramming.in को सब्सक्राइब कर दीजिए | जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की  सूचनाएं जल्दी प्राप्त होगी |

दोस्तों आज की पोस्ट कैसे लगी निचे कमेंट में जरूर बताएं और अपने दोस्तों को Whatsapp, Facebook, Instagram, Twitter पर शेयर जरूर करे |

Thank you आपका दिन मंगलमय हो |

पढ़ते रहिए और बढ़ते रहिए | Keep Reading and Keep Growing

Hey there, welcome to Master Programming. I am Jeetu Sahu , A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging

4 thoughts on “C Language Kya Hai? C Language क्यों और कैसे सीखे?”

Leave a Comment