Array क्या है ? (What is Array In C In Hindi)

हेलो फ्रेंड्स आज के इस आर्टिकल में हम Array in C Language के बारे में बात करने वाले है | 

आज हम Examples के साथ विस्तार से जानेंगे कि ऐरे क्या है? (What is Array In C In Hindi) इसका क्या उपयोग करते है और ऐरे उपयोग करने के क्या फायदे तथा क्या नुकशान है आदि |

तो चलिए बिना समय गवाए सबसे पहले जानते है कि Array Kya Hai?

Array क्या है ? (What is Array In C In Hindi)
Array क्या है ? (What is Array In C In Hindi)

ऐरे क्या है? (What is Array In C In Hindi)

Array वेरिएबल्स का एक ग्रुप है जिसमे उपस्थित सभी वेरिएबल्स का डेटा टाइप सामान होता है |  ऐरे के द्वारा हम जो वेरिएबल्स का ग्रुप बनाते है उसको contiguous फैशन में मेमोरी मिलती है तथा हर Array element को हम उसके index नंबर द्वारा आसानी से एक्सेस कर सकते है |   

ऐरे एक derived data type है जिसमे हर Array element या कहे वेरिएबल का अलग अलग नाम नहीं होता बल्कि वेरिएबल के इस ग्रुप को एक नाम दिया जाता है और उसी से यह accessible होता है | 

यदि हम Array के किसी element को एक्सेस करना चाहते है तो हम उस ऐरे का  नाम और उस एलिमेंट का  इंडेक्स नंबर उपयोग करके उसे एक्सेस कर सकते है | 

Declaration of Array in C 

data_type array_Name[arraySize] ;

Example -:

int num[10];
int num[10];

ऊपर दिए गए example को देखे इसमें int एक data टाइप है जो दर्शाता है कि इस Array में हम केवल इन्टिजर टाइप के data को स्टोर कर सकते है और num उस ऐरे का नाम है जिसके द्वारा हम उस ऐरे को एक्सेस करेंगे तथा ये पैरेंथेसिस में जो 10 लिखा है वो वेरिएबल की संख्या को दर्शाता है ये बताता है कि num ऐरे में 10 वेरिएबल है | 

Array में हर वेरिएबल का अलग से कोई नाम नहीं होता बल्कि इनका इंडेक्स नंबर होता है | हम ऐरे वेरिएबल को ऐरे name और उसके index number द्वारा आसानी से एक्सेस कर सकते है और चाहे तो उसमे कोई बदलाव भी कर सकते है | 

आप चाहे तो कितने ही बड़े साइज का Array बना सकते है जैसे – यदि आपको 100 वेरिएबल का एक group बनाना है तो आप array name और उसके पैरेंथेसिस में 100 लिखकर एक ही बार में 100 वेरिएबल का ग्रुप बना सकते है | Example – arrayName[100];

नोट – 

  • Array का इंडेक्स नंबर जीरो से शुरू होता है | Example -: num[0];
  • यदि Array का साइज n है तो आखिरी इंडेक्स नंबर n-1 होगा | 
  • Example -: num[5]; | इस Array का साइज 5 है तो इसका आखरी इंडेक्स नंबर 4 होगा num[4] | 
  • मान लीजिए यदि Array का पहला इंडेक्स नंबर 2000 है तो उसके बाद के Array का इंडेक्स नंबर कुछ इस तरह होगा -: 2004, 2008, 2012, 2016 | यहाँ पर इंडेक्स नंबर में चार चार बाइट का gape इसलिए है क्योकि एक int वेरिएबल 4 बाइट मेमोरी consume करता है | 

Initialization of Array in C

Array को हम कुछ इस तरह से initialize कर सकते है -:

Method1 -:

int num[10];

Num[0] = 10;
Num[1] = 20;
Num[2] = 30;
Num[3] = 40;
Num[4] = 50;
Num[5] = 60;
Num[6] = 70;
Num[7] = 80;
Num[8] = 90;
Num[9] = 100;

इस तरीके से हम array के हर एक individual वेरिएबल को एक्सेस कर सकते है और अपने हिसाब से वैल्यू स्टोर कर सकते है | 

Method2 -:

Num[10] = {10,20,30,40,50,60,70,80,90,100};

इसमें हम Array डिक्लेअर करते समय ही ऐरे वेरिएबल में वैल्यू initialize कर देता है | 

Method3 -:

Num[] = {10,20,30,40,50,60,70,80,90,100};

हम चाहे तो Array को इस तरीके से भी initialize कर सकते है | इसमें Array नाम के बाद उसकी साइज डिक्लेअर किये बिना उसमे वैल्यू initialize करते है | 

इस तरीके में ऐरे की साइज भी उतनी मानी जाती है जितनी वैल्यू इसमें initialize की गई होती है जैसे ऊपर दिए गए ऐरे में दस वैल्यू initiliaze किया गया है इसलिए इस ऐरे की साइज 10 होगी | 

Example of Array 

आइये अब हम एक उदाहरण द्वारा ऐरे को अच्छे से समझते है |

#include <stdio.h>
void main()
{
	int arr[5];
	arr[0] = 10;
	arr[1] = -10;
	arr[2] = 2;   
	arr[3] = arr[0];

	printf("%d %d %d %d", arr[0],
		arr[1], arr[2], arr[3]);

}

ऊपर दिए गए example को एक बार अच्छे से देखे इसमें हमने 5 वेरिएबल साइज का एक ऐरे बनाया है और उनमे कुछ वैल्यू भी initialize की है | 

इसमें हमने हर ऐरे element की वैल्यू को अलग से printf() फंक्शन की मदद से प्रिंट कराया है जिसका आउटपुट कुछ ऐसा आया है -:

Output -:

10 -10 2 10

Change Value of Array elements

यदि array में डिक्लेरेशन के समय ही कोई वैल्यू initialize कर दिया जाता है तो ऐरे की वैल्यू को बाद में बदला भी जा सकता है | 

Example -:

int mark[5] = {19, 10, 8, 17, 9}

mark[2] = -1;  // make the value of the third element to -1

mark[4] = 0;  // make the value of the fifth element to 0

इस उदाहरण में हमने डिक्लेरेशन के ही समय ऐरे में वैल्यू initialize कर दी है जिसको बाद में हमने mark[2] = -1 करके mark[2] इंडेक्स नंबर वाले array element की वैल्यू को चेंज किया है साथ ही हमने mark[4] = 0 करके 4 इंडेक्स नंबर वाले element की वैल्यू को भी चेंज किया है | 

Input/Output Array Elements

हम चाहे तो हर array element को Array नाम और उसके इंडेक्स नंबर द्वारा आसानी से एक्सेस करके उनमे वैल्यू स्टोर और प्रिंट कर सकते है |

Example -:

// Program to take 5 values from the user and store them in an array
// Print the elements stored in the array
#include <stdio.h>
void main() 
{
  int values[5];

  printf("Enter 5 integers: ");

  for(int i = 0; i < 5; ++i)   // taking input and storing it in an array
{
     scanf("%d", &values[i]);
  }

  printf("Displaying integers: ");

  for(int i = 0; i < 5; ++i)   // printing elements of an array
{
     printf("%d\n", values[i]);
  }

}

इस उदाहरण में हमने values नाम से 5 वेरिएबल साइज का एक ऐरे बनाया है जिसमे हमने फॉर लूप की मदद से यूजर से पहले वैल्यू इनपुट कराया और बाद में  उस वैल्यू को प्रिंट भी कराया है | जिसका आउटपुट कुछ ऐसा आया | 

Output -:

Enter 5 integers: 20
35
45
50
55
Displaying integers:20
35
45
50
55

दोस्तों यहाँ तक आपको समय आ गया होगा की ऐरे क्या है और सी लैंग्वेज में ऐरे का उपयोग कैसे करते है| 

चलिए अब हम ये जान लेते है कि हम सी लैंग्वेज में ऐरे का उपयोग क्यों करते है हमे ऐरे की जरुरत ही क्या है ?

Why we need Array in Programming

Array उस कंडीशन के उपयोगी होता है जिसमे हमे एक साथ, एक ही टाइप के वेरिएबल बनाने होते है जैसे यदि हमे किन्ही 100 नम्बर्स को किसी वेरिएबल में स्टोर करके प्रिंट कराना  है तो इसके लिए हम एक array बनाते है | 

इससे काम आसानी हो जाता है क्योकि इसमें हमे 100 नंबर स्टोर करने के लिए वेरिएबल का नाम सोचना नहीं पड़ता है और हम आसानी से काफी कम लाइन ऑफ़ कोड में 100 वेरिएबल बना लेते है और उनमे डेटा स्टोर करके प्रिंट करा देते है | 

मगर यही आप आप एक नार्मल बनाकर करना चाहते है तो इसके लिए सबसे पहले आपको 100 वेरिएबल के नाम सोचने पढ़ते और उसके बाद उनको डिक्लेअर करना , initiliaze करना आदि कामो में ज्यादा समय और मेहनत लगता | 

मगर इसी काम को आप ऐरे से करते है तो आपको न  नाम सोचने की टेंशन होती है न डिक्लेरेशन और न ही initiliazation की | 

ऐरे में ये सभी काम बड़ी आसानी से हो जाते है | ऐरे हमे सुवधा देता है कि हम एक ही साथ कई सारे वेरिएबल का ग्रुप बना सके और उनमे वैल्यू initiliaze करके उपयोग कर सके | 

Properties of array

  • ऐरे के प्रत्येक element का साइज और डेटा टाइप सामान होता है | 
  • Array element को contiguos फैशन में मेमोरी मिलती है यदि पहले element का इंडेक्स नंबर 200 से स्टार्ट होता है तो बाकि element का इंडेक्स नंबर भी इसी क्रम में आगे बढ़ेगा | 
  • हम Array के हर एक element को उसके index number द्वारा एक्सेस कर सकते है और अपने जरुरत के हिसाब से उसमे manupulation कर सकते है | 

Advantages of array

  • Array element को उसके इंडेक्स नंबर द्वारा आसानी से एक्सेस किया  जा सकता है | 
  • यदि हमे डेटा को एक ग्रुप में स्टोर करने के लिए वेरिएबल बनाना होता है तो हम Array बनाते है क्योकि इसमें कम लाइन ऑफ़ कोड में हमारा काम हो जाता है | 
  • Elementको हम रैंडम्ली एक्सेस कर सकते है | 
  • लूप में इसका उपयोग करके हम किसी सरणी के तत्वों को आसानी से एक्सेस कर सकते हैं। 
  • Array element को short करने के लिए हमे काफी कम लाइन में कोड लिखना पड़ता है | 

Disadvantages of Array

  • Array को हम डिक्लेरेशन के समय जिस साइज की बनाते है वो पुरे program तक उसी साइज की होती है | 
  • Array की साइज को डिक्लेरेशन के बाद बढ़ाया नहीं जा सकता | 

Conclusion

दोस्तों आशा करता हु कि आज के इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको ऐरे क्या है? (What is Array In C In Hindi) इसका क्या उपयोग करते है और ऐरे उपयोग करने के क्या फायदे तथा क्या नुकशान है से संबंधित सभी जानकारी मिल गई होगी और आपको और कही इसके बारे में सर्च करना नहीं पड़ेगा |

अगर आप सी लैंग्वेज का Complete Tutorial चाहते है तो मेरे इस पोस्ट C Language Tutorial In Hindi को देखे यहाँ आपको C Programming Language के सभी टॉपिक्स step by step मिल जाएगी

दोस्तों आशा करता हु कि आपको ये पोस्ट पसंद आई होगी और आपको ऐरे क्या है? (What is Array In C In Hindi) इसका क्या उपयोग करते है और ऐरे उपयोग करने के क्या फायदे तथा क्या नुकशान है के बारे में काफी जानकरी हुई होगी |

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आया है तो इस पोस्ट को अपने अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी ये जानकारी प्राप्त हो सके |

अगर आपको अभी भी ऐरे क्या है? (What is Array In C In Hindi) से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप जरूर बताये मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है

एसी ही नया टेक्नोलॉजी ,Programming Language, Coding , C Language, C++, Python Course , Java Tutorial से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब कर दीजिए | जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं जल्दी प्राप्त होगी |

Jeetu Sahu is A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging

Leave a Comment