Coding Kya Hai? कोडिंग क्यों और कैसे सीखें?

Coding Kya Hai -: आज के समय Information Technology के द्वारा पूरी दुनिया बदल रही है, और इसी Information Technology की सबसे छोटी इकाई का नाम Coding है।

दोस्तों आज के समय हम जो mobile Phone इस्तेमाल करते हैं, उसके अंदर उपस्थित किसी भी Software Icon पर Click करने पर वो Software Open हो जाता है। उस Software को हम अपनी मर्जी से इस्तेमाल कर सकते हैं, उसके विभिन्न प्रकार के Features को इस्तेमाल कर सकते हैं, तथा जरूरत ना होने पर उस Software को बंद भी कर सकते हैं। 

इसी प्रकार हम Website का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इन सभी के पीछे Coding का क्या योगदान है? 

तो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम कोडिंग के बारे में बात करने वाले है। आज हम विस्तार से जानेगें कि Coding Kya Hai? कोडिंग सीखने के लिए क्या करना होगा? कोडिंग के द्वारा आप क्या कर सकते हैं? तथा विभिन्न प्रकार की Programming Languages कौन-कौन सी है जो कोडिंग में इस्तेमाल की जाती है आदि .

तो चलिए अब बिना समय गवाए सबसे पहले जानते हैं कि कोडिंग क्या है? (What is Coding In Hindi)

Coding Kya Hai? कोडिंग कैसे सीखें?

कोडिंग क्या है? (What is Coding In Hindi)

Definition of coding-: एक ऐसा Set of Instruction जिनकी मदद से किसी Software को, या फिर Software की मदद से Hardware को Control किया जा सके, तो ऐसे Set of Instruction को Coding कहा जाता है।

इसे हम इस प्रकार में समझ सकते हैं कि किसी भी Programming Languages के अंतर्गत लिखे जाने वाले Set of Instruction की प्रक्रिया को Coding कहते हैं। 

जब एक व्यक्ति Programming Language (जैसे C, C++, Java, Python आदि) का इस्तेमाल करते हुए कुछ Set of Instruction लिख रहा होता है तब हम आम तौर पर यह कहते हैं कि व्यक्ति Coding कर रहा है। 

यहाँ Programming Language एक ऐसी भाषा होती है जिसकी मदद से एक साधरण व्यक्ति, Computer से communicate कर पाता है। 

जिस प्रकार हमें किसी दुसरे व्यक्ति से बात करने के लिए हिंदी, अंग्रेजी, जर्मन, रशियन या अन्य किसी भाषा का आना जरूरी है, उसी प्रकार कंप्यूटर जैसी एडवांस मशीन से communicate करने के लिए हमें प्रोग्रामिंग लैंग्वेज आना जरूरी है, इसे कई बार मशीन लैंग्वेज भी कहा जाता है। 

Coding को Programming के नाम से भी जाना जाता है क्योकि मोटे तौर पर दोनों का मतलब एक ही होता है। हालांकि मूल रूप से Programming और Coding में कुछ अंतर होता है, इसे हम इस प्रकार समझ सकते हैं कि Programming करने की Process को Coding कहा जाता है।

Coding की मदद से आप Set of Instructions लिखते हैं जो कंप्यूटर के समझने में आसान होता हैं, और इसके बाद कंप्यूटर आपके Set of Instructions के According Actions लेता है और आपको Result उपलब्ध करवाता है।

कोडिंग की शुरुआत कब हुई और किसने करी?

विश्व की पहली प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की उत्पत्ति के साथ ही Coding की शुरुआत हुई। विश्व की सबसे पहली  programming Language यानि Fortran के लांच किये जाते ही coding का काम शुरू हो गया था। Fortran का आविष्कार सन 1957 हुआ था, यानी कि आज से तकरीबन 65 साल पहले। Fortran का आविष्कार IBM तथा जॉन बेकस ने किया था और तभी से Coding की शुरुआत हुई।

कोडिंग की जरूरत क्यों है? (Why we need Coding In Hindi)

Coding की जरूरत आज के समय हमें सबसे ज्यादा है, क्योंकि यदि हम आज के समय को देखे तो आज का युग एक डिजिटल युग है जिसमे Information Technology का काफी अहम् योगदान है और Information Technology में कोडिंग एक महत्वपूर्ण हथियार है।  

Coding या फिर एक Programming Language की मदद से आज के समय में हम विभिन्न प्रकार की Website बना सकते हैं, अलग-अलग Online Platforms बना सकते हैं,  विभिन्न प्रकार की Cloud Storage Platforms बना सकते हैं या फिर हम मोबाइल एप्लीकेशन को बना सकते हैं तथा अन्य कई मामलों में भी  Coding या Programming Language का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Information Technology में कोडिंग का योगदान

आज के समय जो Information Technology की दुनिया है उसका आधार मूल  Programming Languages या फिर Coding ही है, और इसका सबसे बड़ा सबूत है कि आज के समय Information Technology के अंतर्गत आने वाले सभी उपक्रमों जैसे Website, Online Application, Games, Online File System, Computer files, Computer Applications, Computer System Architecture, यह सब कुछ एक निश्चित Programming Language के अंतर्गत ही बनाया गया है।

कोडिंग का महत्त्व हम इस प्रकार समझ सकते है कि एक वेबसाइट को डिजाईन और Develop करने का सबसे पारंपरिक तरीका कोडिंग से होकर गुजरता है।

एक वेबसाईट को बनाने के लिए लिखे जाने वाले ‘line of codes’ को कोडिंग कहते है। 

यदि हम Information Technology का साथ छोड़ दे तो आज का हमारा यह भारत तथा पूरा विश्व Information Technology के बिना बहुत ही पिछड़ा रह जाएगा, और यदि हमें Information Technology के साथ चलना है तो हमें Coding को भी अपना एक हथियार बनाना होगा।

आज के समय Information Technology के द्वारा पूरी दुनिया बदल रही है, और इसी Information Technology की सबसे छोटी इकाई का नाम Coding है।

कोडिंग कैसे सीखें? (How To Learn Coding In Hindi)

Coding सीखने के लिए आपको एक प्रबल इच्छाशक्ति की आवश्यकता होगी, क्योंकि बिना प्रबल इच्छाशक्ति के आप कभी भी Coding नहीं सीख पाएंगे। 

Coding सीखना मुश्किल होता है लेकिन असंभव नहीं होता। 

Coding सीखने के अंतर्गत कठिनाई इस बात पर निर्भर करती है कि आप कौन सी Programming Language को सीख रहे हैं या कौन सी Programming Language के अंतर्गत Coding करना सीख रहे हैं।

लेकिन आप कोई-सी भी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में Coding सीखते हैं या Programming Language सीखते हैं, तो इसके लिए आपको निचे गए बातो का ध्यान रखना चाहिए 

  • सबसे पहले यह निर्धारण करना होगा कि आप कौन सी Programming Language सीखना चाहते हैं। 
  • इसके बाद में आपको Programming Language के इतिहास के बारे में भी थोड़ी बहुत जानकारी होनी चाहिए, कि उसकी उत्पत्ति क्यों तथा कैसे हुई। 
  • इसके पश्चात आपको उसे Programming Language की मदद से बनाए जाने वाले softwares तथा अन्य उपक्रमों के बारे में जानना जरूरी है, जिसे आप बनाने वाले होंगे।
  • अब आपको उस Programming Language के छोटे-छोटे प्रोग्राम बना करके शुरुआत करनी होगी, और उन सभी को निर्धारित Programming Platforms पर Check चेक करना होगा, कि आपने क्या त्रुटियां करी है। 
  • उन सभी त्रुटियों को सही करना होगा।
  • ऐसे करते हुए आपको छोटे प्रोग्राम से बड़े प्रोग्राम की ओर जाना होगा, और बड़े प्रोग्राम बनाने में जिस भी प्लेटफार्म की मदद मिल सके आपको उसी प्लेटफार्म की मदद लेनी होगी। जैसे कि StackoverflowCsTutorialpoint, w3schools, Tutorialspoint, Geeksforgeeks, javatpoint।com, YouTube, Linkedin इन सभी की मदद से आपको अपनी Programming Language को मजबूत करते हुए आगे चलना है।
  • इसके पश्चात अब आपको एक छोटा प्रोजेक्ट बनाने का टेस्ट लेना होगा, और उसे कंप्लीट करना होगा।
  • छोटे प्रोजेक्ट को कंप्लीट करने में आपके सामने जो भी समस्याएं आयेंगी, आपको उन सभी समस्याओं का सामना करना है, तथा उसे प्रोजेक्ट को कंप्लीट करना है। 
  • इसके पश्चात आपको एक बड़ा प्रोजेक्ट लेना है और उसे बनाना शुरू करना है, इसके पश्चात बड़े प्रोजेक्ट में जो भी समस्या आती है, उन सभी का समाधान करना है, और प्रोजेक्ट को कंप्लीट करना है। 

इस प्रकार आप किसी भी Programming Language में महारत हासिल कर सकते हैं और Coding सीख सकते हैं। 

Programming Language कौन-कौन सी है?

आज के समय विभिन्न प्रकार की Programming Languages मार्केट में Active है, जैसे कि  –

  • C++
  • JavaScript,
  • HTML,
  • CSS,
  • PHP जिसका फुल फॉर्म Hypertext Processor होता है,
  • JAVA, 
  • Python, 
  • Ruby

यह सभी आज के समय सबसे ज्यादा एक्टिव Programming Languages है।

फ्री में कोडिंग कैसे सीखे?(How to learn coding for free)

यदि आप फ्री में कोडिंग सीखना चाहते हैं तो नीचे मैं कुछ वेबसाइट बता रहा हूँ जहा से आप फ्री में कोडिंग सिख सकते है -:

  • CsTutorialpoint
  • Javatpoint
  • Geeksforgeeks

ये तीनो इंग्लिश वेबसाइट है जिनसे आप फ्री में कोडिंग सिख सकते है लेकिन यदि आप हिंदी में कोडिंग सीखना चाहते है तो आप हमारी इसी वेबसाइट से फ्री हिंदी में कोडन सिख सकते है।

FAQ – Frequently Asked Questions

Q1. क्या हम ऑनलाईन कोडिंग सीख सकते हैं?

Ans. जी हां, आप ऑनलाइन कोडिंग सीख सकते हैं। इसके लिए आपको सबसे पहले एक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सेलेकेट करनी होगी फिर उस लैंग्वेज को ऑनलाइन सीखना प्रारम्भ करना होगा। जब आप कोई एक कंप्यूटर लैंग्वेज सिख जायेंगे तब आपको कोडिंग भी बड़ी आसानी से आ जाएगी।

Q2. कोडिंग से कितना पैसा कमाया जा सकता है?

Ans. आप कोडिंग से कितना पैसा कमा सकते है ये बात आपके कोडिंग स्किल पर निर्भर करती है। यदि आपकी कोडिंग स्किल काफी अच्छी है और आपको वो सब चीजे आती है जिसकी मार्किट में डिमांड है तो आप सालाना कोडिंग से लाखो रूपये से करोडो रूपये तक बड़ी आसानी से कमा सकते है।

Conclusion

दोस्तों आज के इस आर्टिल्स में हमने Coding के बारे में बात की और जाना कि कोडिंग क्या है? (What is Coding In Hindi) कोडिंग सीखने के लिए क्या करना होगा? कोडिंग के द्वारा आप क्या कर सकते हैं? तथा विभिन्न प्रकार की Programming Languages कौन-कौन सी है जो कोडिंग में इस्तेमाल की जाती है

तो दोस्तों आशा करता हूँ कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा और यदि ये आर्टिकल आपको पसंद आया है तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी Coding Kya Hai के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके .

अगर आपको अभी भी What is Coding In Hindi से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप कमेंट्स के जरिए हमसे पुछ सकते है। मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

ऐसे ही नया टेक्नोलॉजी ,Computer Science, Coding, Programming, Programming language से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब कर दीजिए | जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं जल्दी प्राप्त होगी |

Jeetu Sahu is A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging

Leave a Comment

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.