Register Memory क्या है? (What is Register Memory In Hindi)

हेलो फ्रेंड्स आज के इस आर्टिकल में हम Register Memory के बारे में बात करने वाले है | 

आज हम विस्तार से जानेंगे कि रजिस्टर मेमोरी क्या है? ( What is Register Memory In Hindi ) और रजिस्टर मेमोरी कितने प्रकार के होते है? ( Types of Register Memory In Hindi )

तो चलिए बिना समय सबसे पहले जानते है कि Register Memory Kya Hai?

रजिस्टर मेमोरी क्या है? (What is Register Memory In Hindi)
रजिस्टर मेमोरी क्या है? (What is Register Memory In Hindi)

रजिस्टर मेमोरी क्या है? (What is Register Memory In Hindi)

Register Memory, कंप्यूटर सिस्टम की सबसे छोटी मेमोरी है जो बाकि मेमोरी से काफी फ़ास्ट होती है | यह Primary Memory का हिस्सा नहीं होता बल्कि यह CPU में रजिस्टर के रूप में स्थित होता है जो कि बाकि मेमोरी की तुलना में सबसे कम मात्रा में डेटा को स्टोर करके रखता है | 

Register Memory, CPU द्वारा बार बार उपयोग होने वाले डेटा, इंस्ट्रक्शंस, और मेमोरी एड्रेस को अस्थाई तौर पे स्टोर करके रखता है | 

यह CPU द्वारा वर्तमान में चल रहे प्रोग्राम के इंस्ट्रक्शंस को होल्ड करके रखता है | CPU द्वारा कोई भी इंस्ट्रक्शन प्रोसेस होने से पहले रजिस्टर में स्टोर होता है फिर CPU रजिस्टर से उन इंस्ट्रक्शन को लेकर उसके हिसाब से प्रोसेस करता है | 

रजिस्टर मेमोरी में 32 bits से 64 bits तक डेटा स्टोर होता है | सीपीयू की स्पीड रजिस्टरों की संख्या और साइज (बिट्स की संख्या) पर निर्भर करती है। 

रजिस्टर को हम उपयोग के आधार पर कई भागों में विभाजित कर सकते है। कुछ पॉपुलर रजिस्टर मेमोरी में – Accumulator, Data Register, Address Register, Program Counter , I/O Address Register आदि आते है | 

आइये अब हम रजिस्टर के इन प्रकारों के बारे में एक एक करके जानते है |

विभिन्न प्रकार के मेमोरी रजिस्टर (Different types of Memory Register In Hindi)

  1. Data Register
  2. Program Counter (PC)
  3. Instructor Register
  4. Accumulator Register
  5. Address Register
  6. I/O Address Register
  7. I/O Buffer Register
  8. Flag Register
  9. Index Register
  10. Memory Buffer Register

1. Data Register

यह एक 16-bit रजिस्टर है, जिसका उपयोग प्रोसेसर द्वारा संचालित होने वाले operands (variables) को स्टोर करने के लिए किया जाता है। यह i/o device ( Input/output device ) से प्राप्त डेटा को अस्थायी रूप से स्टोर करने का कार्य करता है |

2. Program Counter (PC)

यह 8085 माइक्रोप्रोसेसर में 16 बिट स्पेशल फंक्शन रजिस्टर है। इसे instruction pointer register के रूप में भी जाना जाता है | 

यह CPU द्वारा प्रोसेस किये जा रहे प्रोग्राम के नेक्स्ट instruction की मेमोरी एड्रेस का पता रखता है, जिससे वर्तमान इंस्ट्रक्शन के पूरा होने के बाद अगली इंस्ट्रक्शन को CPU द्वारा जल्दी से प्राप्त कर execute किया जा सके |

दूसरे शब्दों में, यह माइक्रोप्रोसेसर द्वारा वर्तमान instruction को execute करने के बाद के अगले instruction की मेमोरी लोकेशन का पता रखता है।

3. Instructor Register

यह एक 16-बिट रजिस्टर है। यह उन instruction को स्टोर करता है जो मुख्य मेमोरी से प्राप्त होता है।

इसका उपयोग instruction कोड को रखने के लिए किया जाता है, जिन्हें बाद में execute किया जाना है। Control Unit, इंस्ट्रक्टर रजिस्टर से instruction लेता है, फिर उसे decodes और execute करता है।

4. Accumulator Register

यह एक 16 बिट रजिस्टर है जो सिस्टम द्वारा प्रोसेस से प्राप्त रिजल्ट को स्टोर करने का कार्य करता है | एक्युमुलेटर रजिस्टर ALU का हिस्सा है जो कि arithmetic और logical operations के लिए जिम्मेदार होता है। यह रजिस्टर प्रारंभिक डेटा, मध्यवर्ती परिणाम और साथ ही अंतिम रिजल्ट को स्टोर करके रखता है।

For Example – CPU द्वारा प्रोसेसे से प्राप्त रिजल्ट को Accumulator Register में रखा जाता है |

5. Address Register

यह एक 12-बिट रजिस्टर है जो मेमोरी के उस स्थान का एड्रेस स्टोर करता है जहां पर इंस्ट्रक्शन और डेटा रखा होता है |

6. I/O Address Register

इस रजिस्टर का उपयोग I / O डिवाइस का एड्रेस रखने के लिए किया जाता है |  यहाँ पर I/O का मतलब input/output डिवाइस से है |

7. I/O Buffer Register

इस रजिस्टर का उपयोग I / O मॉड्यूल और CPU के बीच डेटा का आदान-प्रदान के लिए किया जाता है |

8. Flag Register

यह रजिस्टर सीपीयू में किसी condition की विभिन्न घटनाओं की जाँच करता है | इस विशेष रजिस्टर को flag register के नाम से जाना जाता है। इस रजिस्टर का आकार एक या दो बाइट्स है क्योंकि यह केवल flag information रखता है। 

9. Index Register

Index register कंप्यूटर सीपीयू का एक अभिन्न अंग है जो प्रोग्राम के execution के दौरान मेमोरी ऑपरेंड के address को मॉडिफाई करने में मदद करता है। 

10. Memory Buffer Register

Memory Buffer Register को संक्षेप में MBR भी कहा जाता है | इस रजिस्टर का उपयोग मेमोरी से आने वाले और मेमोरी में जाने वाले डेटा/ इंस्ट्रक्शन को करने के लिए किया जाता है   | 

हमें रजिस्टर मेमोरी की आवश्यकता क्यों है (Why We Need Register Memory )

निर्देशों के तेजी से संचालन के लिए, CPU register अत्यधिक उपयोगी है। यह बाकि कंप्यूटर मेमोरी की तुलना में काफी फ़ास्ट होता है और यह कंप्यूटर मेमोरी hierarchy में सबसे ऊपर स्थित होता है | 

यह रजिस्टर, instruction, address या किसी अन्य प्रकार का छोटा डेटा करके रख सकता है। इस प्रकार के रजिस्टर, सीपीयू के संचालन को कुशल और सार्थक बनाते है |

रजिस्टर मेमोरी के लाभ (Advantages of Register Memory In Hindi)

रजिस्टर मेमोरी के निम्नलिखित लाभ है -:

  1. यह सबसे तेज़ मेमोरी ब्लॉक हैं इसलिए मुख्य मेमोरी की तुलना में इंस्ट्रक्शंस को तेजी से execute करता है | 
  2. रजिस्टर की मदद से सीपीयू द्वारा instructions को काफी सरल तरीके से हैंडल किया जाता है | 
  3. आज के इस डिजिटल दुनिया में शायद ही कोई CPU होगा जिसमे रजिस्टर न हो | 

रजिस्टर मेमोरी के नुकसान (Disadvantages of Register Memory In Hindi)

रजिस्टर मेमोरी के निम्न नुकसान है -:

  1. रजिस्टर मेमोरी साइज में छोटी होती है जिससे इसमें ज्यादा मात्रा में डेटा स्टोर नहीं किया जा सकता | 
  2. यह बाकि मेमोरी की तुलना में काफी महंगा है | 
  3. अगर इंस्ट्रक्शन CPU से बड़ा है तो ऑपरेशन के लिए रजिस्टर के साथ साथ कैश या मुख्य मेमोरी का उपयोग करना पड़ता है | 

निष्कर्ष

दोस्तों आशा करता हु कि आज के इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको रजिस्टर मेमोरी क्या है? ( What is Register Memory In Hindi ) और रजिस्टर मेमोरी कितने प्रकार के होते है? (Types of Register Memory In Hindi ) से संबंधित सभी जानकारी मिल गई होगी और आपको और कही इसके बारे में सर्च करना नहीं पड़ेगा |

अगर आप कंप्यूटर फंडामेंटल Complete Tutorial चाहते है तो मेरे इस आर्टिकल Computer Fundamentals Tutorial In Hindi को देखे | यहाँ आपको कंप्यूटर फंडामेंटल्स के सभी टॉपिक्स step by step मिल जाएगी |

दोस्तों आशा करता हु कि आपको ये पोस्ट पसंद आई होगी और आपको Register Memory Kya Hai ? के बारे में काफी जानकरी हुई होगी |

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आया है तो इस पोस्ट को अपने अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी ये जानकारी प्राप्त हो सके |

अगर आपको अभी भी Register Memory In Hindi से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप जरूर बताये मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

ऐसे ही टेक्नोलॉजी , Computer science से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब कर लीजिये जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं आपको जल्दी प्राप्त होगी |

Thank you आपका दिन मंगलमय हो |

पढ़ते रहिए और बढ़ते रहिए | Keep Reading and Keep Growing

Jeetu Sahu is A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging

Leave a Comment