Computer Ports क्या है? (What is Computer Ports In Hindi)

कंप्यूटर में CPU का क्या इस्तेमाल है ये तो आप जानते ही होंगे लेकिन आपने कंप्यूटर CPU के पीछे साइड और सामने के साइड कुछ Ports, Connectors और Buttons देखे होंगे, जिसके बारे में हो सकता है कि आपको पूरी जानकारी न हो |

तो ऐसे में आज के इस पोस्ट में हम कंप्यूटर में मौजूद सभी Computer Ports के बारे में जानने वाले है | 

आज हम विस्तार से जानेंगे कि कंप्यूटर पोर्ट्स क्या है? (What is Computer Ports In Hindi) और इनका क्या इस्तेमाल है? 

तो चलिए बिना समय गवाए सबसे पहले जानते है कि Computer Ports Kya Hai ?

Computer Ports Kya Hai? (What is Computer Ports In Hindi)
कंप्यूटर पोर्ट्स क्या है? (What is Computer Ports In Hindi)

कंप्यूटर पोर्ट्स क्या है? (What is Computer Ports In Hindi)

कंप्यूटर पोर्ट एक ऐसा Connection point होता है जिसके माध्यम से हम External Devices को PC या कंप्यूटर से जोड़ने का कार्य करते है | 

For Example, यदि आप कीबोर्ड, माउस, पेन ड्राइव को कंप्यूटर से कनेक्ट करना चाहते है तो आपको एक Ports या Connection point की जरुरत होगी जिसके माध्यम से आप इन डिवाइस को कंप्यूटर से कनेक्ट कर पाएंगे |

तो एक पोर्ट, Computer और external Devices के बीच इंटरफेस के रूप में कार्य करता है |  इसे Communication Port भी कहा जाता है क्योकि यह वह पॉइंट है जहा से External डिवाइस कंप्यूटर से कनेक्ट होती है और जिससे कंप्यूटर और External डिवाइस के बीच डेटा और फाइल्स का ट्रांसफर और आदान प्रदान हो पता है | 

Types of Computer Ports

Computer Ports को हम Prototype या कम्युनिकेशन किस तरह से हो रहा है उसके आधार पर दो भागो में बाँट सकते है -:

  • Serial Port
  • Parallel Port

Serial Port

यह पोर्ट External Devices को सीरियल प्रोटोकॉल का उपयोग करके कंप्यूटर से जोड़ता है | इस पोर्ट में एक समय में केवल एक बिट डेटा ही ट्रांसफर हो सकती है | 

D-Subminiature or D-sub connector सीरियल पोर्ट्स का एक अच्छा उदाहरण है | जो RS-232 सिग्नल्स को वहन करता है।

  • इसका उपयोग external modems के लिए होता है | 
  • मार्किट में इसके दो वर्शन उपलब्ध है – 9 pin और 25 pin model | 
  • डेटा 115 kilobits per second की स्पीड से ट्रेवल करता है | 

Parallel Port

इस पोर्ट में कंप्यूटर और external device के बीच एक ही समय में एक से ज्यादा बिट डेटा ट्रांसफर हो सकता है इसलिए इसे Parallel Port कहते है जो Parallel कम्युनिकेशन को Allow करता है | 

  • ये मूल रूप से scanners और printers जैसे उपकरणों को जोड़ने के लिए उपयोग किया जाता है।
  • इन्हें प्रिंटर पोर्ट के रूप में भी जाना जाता है।
  • इसका 25 पिन वाला एक मॉडल उपलब्ध हैं।
  • डेटा 150 किलो बिट्स प्रति सेकंड की गति से ट्रेवल करता है।

Display Port

यह डिवाइस से डिस्प्ले स्क्रीन पर वीडियो और ऑडियो प्रसारित करने की अनुमति प्रदान करता है। यह एक एडवांस टेक्नोलॉजी है जिसे DVI और VGA के विकल्प  के रूप में विकसित किया गया है |

laptops, desktops, tablets, monitors, आदि पर एक डिस्प्ले पोर्ट देखा जा सकता है। इसमें 20-पिन कनेक्टर है और DVI पोर्ट की तुलना में बेहतर रिज़ॉल्यूशन प्रदान करते है।

इसका लेटेस्ट वर्शन DisplayPort 1.3 है जो, 7680 X 4320 तक के रिज़ॉल्यूशन को संभाल सकता है।

HDMI port

HDMI (High Definition Media Interface) को डिजिटल कैमरा ,कंप्यूटर मॉनिटर , गेमिंग कंसोल जैसे हाई डेफिनिशन डिवाइस को कनेक्ट करने के लिए डेवलप्ड किया गया है | 

यह uncompressed वीडियो और compressed / uncompressed ऑडियो को वहन करता है | इस पोर्ट्स में 19 पिंस अवलेबल है इसका लेटेस्ट वर्शन HDMI 2.0 है जो 4096 × 2160 रिज़ॉल्यूशन और 32 ऑडियो चैनलों तक डिजिटल वीडियो सिग्नल ले जाने के लिए उपयोग किया जाता है।

USB Port

USB Port के द्वारा हम लगभग सभी प्रकार के एक्सटर्नल डिवाइस जैसे हार्ड डिस्क, प्रिंटर, मॉनिटर, कीबोर्ड, माउस आदि को कनेक्ट कर सकते है | 

USB Port सबसे पहले 1997 में प्रस्तुत हुआ था | इसमें डेटा 14mb/s की स्पीड से ट्रेवल करता है | आज, इसने PS / 2 कनेक्टर, गेम पोर्ट, सीरियल और पैरेलल पोर्ट आदि को रेप्लस कर दिया है। ज्यादातर कंप्यूटर दो तरह के USB Port प्रदान  करते है – : USB Type A और USB Type C 

PS/2

ये मूल रूप से पुराने कम्प्यूटर में माउस और कीबोर्ड को कनेक्ट करने के उपयोग किया जाता है | इसे माउस पोर्ट भी कहा जाता है | 

यह सिक्योरिटी करने से Organization द्वारा काफी पसंद किया जाता है | यह 6 पिन mini Din connector हैं जो कीबोर्ड और माउस को पीसी कंप्यूटर से कनेक्ट करने के लिए उपयोग किए जाते हैं। 

ये कनेक्टर collor codit है उदाहरण के लिए, हरा रंग माउस के लिए , और कीबोर्ड के लिए बैंगनी कलेर का कनेक्टर यूज़ होता है | वर्तमान समय में, यह USB पोर्ट द्वारा रेप्लसेड हो गया है।

VGA Port

यह पोर्ट आमतौर पर कंप्यूटर , प्रोजेक्टर और हाई डेफिनिशन वाले टीवी में पाया जाता है | यह  D-sub connector है जिसे DR-15 भी कहा जाता है | 

इसमें 15  पिन होते है जो 3 row में arranged होते है | हर row में 5 पिन होते है | इसका उपयोग मुख्य रूप से मॉनिटर को cpu से कनेक्ट करने के लिए किया जाता है | अधिकांश एलसीडी और एलईडी मॉनिटर VGA पोर्ट के साथ आते हैं | 

VGA 648X480 के रिज़ॉल्यूशन तक केवल एनालॉग वीडियो सिग्नल ले जा सकता है इसलिए यह हाई quality की भरोसा नहीं दिलाता | 

हालाँकि, ये पोर्ट उच्च चित्र गुणवत्ता को आश्वस्त नहीं करते हैं क्योंकि VGA 648X480 के रिज़ॉल्यूशन तक केवल एनालॉग वीडियो सिग्नल ले जा सकता है।

जैसे-जैसे वीडियो quality की मांग बढ़ती जा रहा है, VGA ports को धीरे-धीरे अधिक advanced ports जैसे HDMI और Display Ports द्वारा बदल दिया गया जो कि उच्च वीडियो गुणवत्ता का आश्वासन देते हैं।

VGA Port को IBM द्वारा 1987 में पेश किया गया था | यह सीरियल पोर्ट कनेक्टर के समान ही होता है हालांकि सीरियल पोर्ट कनेक्टर में पिन होते हैं और वीजीए पोर्ट में होल्स होते हैं। 

निष्कर्ष

दोस्तों आशा करता हु कि आज के इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको कंप्यूटर पोर्ट्स क्या है? (What is Computer Ports In Hindi) और इनका क्या इस्तेमाल है? से संबंधित सभी जानकारी मिल गई होगी और आपको और कही इसके बारे में सर्च करना नहीं पड़ेगा |

अगर आप कंप्यूटर फंडामेंटल Complete Tutorial चाहते है तो मेरे इस आर्टिकल Computer Fundamental Tutorial In Hindi को देखे | यहाँ आपको कंप्यूटर फंडामेंटल्स के सभी टॉपिक्स step by step मिल जाएगी |

दोस्तों आशा करता हु कि आपको ये पोस्ट पसंद आई होगी और आपको Computer Ports Kya Hai? के बारे में काफी जानकरी हुई होगी |

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आया है तो इस पोस्ट को अपने अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी ये जानकारी प्राप्त हो सके |

अगर आपको अभी भी Computer Ports In Hindi से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप जरूर बताये मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

ऐसे ही टेक्नोलॉजी , Computer science से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब कर लीजिये जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं आपको जल्दी प्राप्त होगी |

Thank you आपका दिन मंगलमय हो |

पढ़ते रहिए और बढ़ते रहिए | Keep Reading and Keep Growing

Jeetu Sahu is A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging