Input Device Kya Hai? । Definition & Examples । जानिए हिंदी में

हेलो फ्रेंड्स कम्प्यूटर फंडामेंटल की इस सीरिज़ में आज हम Computer Input Devices के बारे में बात करने वाले है।

आज हम विस्तार से जानेंगे है कि इनपुट डिवाइस क्या है? (What is Input Device In Hindi) इसकी परिभाषा क्या है? (Input device Definition in Hindi) हमे इसकी जरुरत क्यों पड़ती है? और Input Device कितने प्रकार होते है?(Types of Input Device in Hindi) ।

तो चलिए बिना समय गवाए सबसे पहले जानते है कि Input Device Kya Hai?

इनपुट डिवाइस क्या है? (What is Input Device in Hindi)

Definition of Input device -: ” Input device वह Device होता है जो यूजर द्वारा दिये गए निर्देशो और संदेशों को कम्प्यूटर सिस्टम को देने का कार्य करता है। “

सरल शब्दों में है कहा जाए तो Input Device वह Device होता हैं जो बाहरी यूज़र द्वारा दिए गए निर्देशों को स्वीकार करता है और उसे कम्प्यूटर के स्वीकृत रूप (Computer Acceptable Form) में परिवर्तित करके उसे कम्प्यूटर सिस्टम को दे देता है ताकि यूज़र द्वारा की गई request को कम्प्यूटर सिस्टम द्वारा आगे process किया जा सके।

Computer ke input device के बारे में और विस्तार से जानने से पहले हम ये जान लेते है कि हमे Input Devices की जरूरत क्यों पड़ी…?

Must Read – 👉 Output Device Kya Hai? Definition And Examples

इनपुट डिवाइस की आवश्यकता क्यों है? (Why the need for Input Devices In Hindi)

पुराने समय में अर्थात् Computer के शुरुआती दौर मे, जब कम्प्यूटर दुनिया मे आया था, तब उस समय के कम्प्यूटर को Instructions देने के लिए यूज़र द्वारा  ‘पंच कार्ड ‘, ‘ पेपर टेप ‘, और ‘मैग्नेटिक टेप’ जैसे Input Devices का उपयोग किया जाता था।

इसके साथ ही ऐसे Input Devices केवल प्रोग्रामर ही उपयोग कर पाते थे | ये नार्मल यूजर की समझ से बाहर था जिसके कारण अन्य साधारण user कम्प्यूटर से अपना कार्य करने में असमर्थ थे ।

अतः कम्प्यूटर के दिनों दिन बढ़ती उपयोगिता और यूजर के परेशानियों को देखते हुए, कम्प्यूटर निर्माताओं ने Computer Input Device का निमार्ण किया ताकि अन्य यूज़र भी कम्प्यूटर मे अपना कार्य कर सके।

अतः हम कह सकते है की बिना Input Devices के हम कम्प्यूटर मे अपनी इच्छनुसार कार्य नहीं कर सकते। हमे कम्प्यूटर में अपनी इचछानुसार कार्य करने के लिए Input Devices की जरूरत होती है।

Must Read – 👉 Computer Kya Hai? Definition and Features of Computer in Hindi

इनपुट डिवाइस के प्रकार (Types of Input Device In Hindi)

 Input Devices दो प्रकार की होती हैं -:

  1. पॉइंटिंग इनपुट डिवाइसेस (Pointing input devices)               
  2. नॉन पॉइंटिंग इनपुट डिवाइसेस (Non Pointing input devices)

#1. Pointing Input Devices क्या है? (What is Pointing Input Devices In Hindi)      

Pointing input devices ऐसी Devices होती है, जिसके द्वारा हम कम्प्यूटर के मॉनीटर में किसी particular जगह पर क्लिक कर या प्वाइंट कर अपनी किसी विशेष प्रोसेस को या कार्य को परफॉर्म करते है। इसके अंतर्गत Mouse, Joystick, Trackball, Touch screen, जैसे devices आते है।

#2 Non Pointing Input Devices क्या है? (What is Non Pointing Input Devices In Hindi) 

Non Pointing input devices के अंतर्गत ऐसे डिवाइसेस आते है, जिसके द्वारा हम डायरेक्ट किसी particular प्रोसेस या प्रोग्राम को प्वाइंट नहीं कर सकते है। इस प्रकार के डिवाइसेस से हम टेक्स्ट, इमेजेस या मीडिया (media) जैसे निर्देश को कम्प्यूटर सिस्टम मे इनपुट करते है। इसके अंतर्गत Keyboard, Scanner, OCR, MICR, Microphone जैसी devices आते है |

आइए अब हम जानते है कि कम्प्यूटर Input Devices कौन – कौन से होते है…? और ये किस प्रकार काम करते है…?

इनपुट डिवाइस के उदाहरण | Examples of Input Devices In Hindi

  1. कीबोर्ड (Keyboard)
  2. माउस (Mouse)
  3. ज्वॉयस्टिक (JoyStick)
  4. टच स्क्रीन (Touch screen)
  5. लाइट पेन (Light pen)
  6. Magnetic Ink Character Reader (MICR)
  7. Optical Character Reader (OCR)
  8. बारकोड रीडर (Barcode Reader)
  9. स्कैनर (Scanner)
  10. माइक्रोफोन (Microphone)
  11. क्यूआर कोड रीडर (QR Code Reader)
  12. बॉयोमीट्रिक उपकरण (Biometric Devices)
  13. डिजिटल कैमरा (Digital Camera)
  14. वेबकैम ( Webcam )
  15. ट्रैकबॉल ( Trackball )
  16. Interactive Whiteboard
  17. Graphics Tablet or Digitizer
  18. Paddle
  19. Steering Wheel
  20. Gesture recognition devices

आइये अब हम अब हम Keyboard, Mouse , Light Pen आदि सभी इनपुट डिवाइस जो ऊपर बनाये गए है के बारे में एक एक करके विस्तार से जानते है |

#1. Keyboard

यह एक पेरिफेरल नॉन प्वॉइंटिंग इनपुट डिवाइस (Non Pointing Input Device) है। यह सबसे ज्यादा उपयोग मे आने वाला इनपुट डिवाइस है | जिसकी सहायता से हम कम्प्यूटर मे अक्षर (text) को इनपुट करते हैं, अर्थात् हम Keyboard का उपयोग Text को लिखने में करते हैं।

Keyboard - Input Device of computer in Hindi

Keyboard मे कुल 105 कुंजियां (keys) होती है। Keyboard के टॉप पर F1 से लेकर F12 तक बारह keys होती हैं जो कि किसी special कार्य को करने के लिए होती है। इसके तुरंत नीचे स्पेशल Characters keys होती हैं, जिसमे से कुछ Comparison keys, Logical keys,और Arithmetic Operator keys होती है | 

Keyboard के मध्य में A से Z तक (Small & Capital latter) की Keys होती हैं, जिसका उपयोग Text लिखने मे करते है। Keyboard के दायी ओर Numeric Keys, और Control Keys होती है। इसके आलावा Keyboard मे कुछ स्पेशल Keys..जैसे ctrl key, Alt key, Tab key, backspace key, और enter key जैसे keys होती है, जो स्पेशल कार्य को परफॉर्म करते है।

#2. Mouse

Mouse कीबोर्ड के बाद सबसे ज्यादा उपयोग होने वाली दूसरी Input Device है | Mouse एक पॉइंटिंग इनपुट डिवाइस (Pointing input device) है।

Mouse की सहायता से हम मॉनीटर मे किसी भी ऑब्जेक्ट को select कर उसमे कोई टास्क Perform कर सकते है। Mouse को एक चिकनी सतह पर रखकर मूवमेंट कराया जाता है जिससे इसका कर्सर Monitor मे मूवमेंट करता है और इसी के कारण हम किसी object को select कर उसमे टास्क Perform कर पाते है। 

Mouse एक छोटे बॉक्स के आकार कि होती है, जिसमे दो बटन (Right और left) होती है, तथा एक scroll बटन होती है। माउस के Right button को प्रेस करने पर ड्रॉप डाउन मेन्यू खुलती है जिसकी सहायता से हम उस ऑब्जेक्ट के लिए कुछ कार्य परफॉर्म कर सकते है तथा माउस के लेफ्ट बटन की सहायता से हम किसी ऑब्जेक्ट को select कर उस पर टास्क परफॉर्म करते है। 

इसके अलावा scroll button किसी वेब पेज या Document पेज को स्क्रॉल करने अर्थात् up- down करने मे सहायता करता है।

Mouse - Input Device of computer

#3. Joystick

Joystick एक पॉइंटिंग इनपुट डिवाइस (Pointing input device) है। जो कि एक समतल rectangle छोटे बॉक्स की आकार की होती है। इसमे एक gear जैसे एक Stick होती है। इसकी सहायता से हम निर्देश को कम्प्यूटर मे इनपुट कराते है। 

Joystick - Input Device In Hindi

Joystick माउस के जैसे ही होता है, पर यदि हम Joystick के Stick को मूव करके छोड़ देते है तो यह लगातार उसी दिशा मे बढ़ती रहती है | इसे रोकने के लिए हमे Stick को पुनः रिवर्स कर उसे पहली स्थिति मे लानी पड़ती है जबकि माउस मे ऐसा नहीं होता है। मुख्यता इसका उपयोग Gaming मे अर्थात् game खेलने मे किया जाता है।

#4. Touch Screen

Touch Screen एक पॉइंटिंग इनपुट डिवाइस (Pointing input device) होती है, जो कि एक बक्से नुमा फ्लैट पतली डिवाइस होती है, जिसमे उपरी सतह (front end) को ढकने वाला एक Transparent sensitive touch panel होती है। 

Touch Screen में एक विशेष प्रकार की machanism होती है, जो कि यूजर के द्वारा दिए गए निर्देश को कम्प्यूटर सिस्टम मे इनपुट करता है। अर्थात् जब यूज़र अपने उंगलियों के माध्यम से किसी ऑब्जेक्ट को select करता है और उस पर टास्क परफॉर्म करने कि instruction देता है, तो यह टच पैनल उस निर्देश को Computer acceptable form मे परिवर्तित कर उसे सिस्टम को देता है ताकि सिस्टम उस कार्य को परफॉर्म कर सके।

Touch Screen - What is input device in hindi

Touchscreen का उपयोग आजकल ज्यादातर देखा जा सकता है, अर्थात् टच स्क्रीन का उपयोग आजकल मोबाईल फोन बनाने मे किया जाता है और दिनों दिन Touchscreen का उपयोग बढ़ता जा रहा है।

#5. Light Pen

Light pen एक पॉइंटिंग इनपुट डिवाइस (Pointing input device) है, जो कि एक पेन के जैसा दिखाई देता है। यह एक Light sensitive device है जिसकी नोक से light निकलती है। यह टच स्क्रीन के जैसा ही होता है लेकिन इसमें ऑब्जेक्ट को select कर उस पर टास्क परफॉर्म करने कि क्षमता टच स्क्रीन कि तुलना में ज्यादा effective होता है। Light pen टच स्क्रीन कि तुलना में अधिक रिलायबल होता है। 

Light pen का उपयोग डिस्प्ले स्क्रीन से ऑब्जेक्ट को select करने मे व ग्राफिक डिज़ाइन करने व ग्राफिक draw करने मे किया जाता है। यह ज्यादातर CRT monitor के लिए यूजफुल होता है लेकिन इसका उपयोग LCD डिस्प्ले मे भी कर सकते है।

Light pen - Input devices in Hindi

#6. Magnetic Ink Character Reader

MICR ( Magnetic Ink Character Reader) एक नॉन प्वॉइंटिंग इनपुट डिवाइस (Non Pointing input device) होता है, जिसे magnetic ink character reader या magnetic ink character recognition भी कहते है। 

MICR ( Magnetic Ink Character Reader) का उपयोग ज्यादातर बैंकों मे किया जाता है। यह बैंक यूज़र द्वारा भरे गए चेक पेपर को रीड करता है तथा ATM मशीन मे, ATM कार्ड पर लगे चुम्बकीय चिप के निर्देशांकों और निर्देशों को रीड करता है और सारी instruction system को देता है जिससे सिस्टम यूज़र को उसकी बैंक डिटेल्स show करता है।

#7. Optical Character Reader

OCR (Optical Character Reader) एक नॉन प्वॉइंटिंग इनपुट डिवाइस  (Non Pointing input device) है, जो कि एक छोटे प्रिंटर या छोटे rectangle box के जैसा होता है। यह ज्यादातर प्रिंटेड टेक्स्ट, hand writing मे लिखी गई कोई फाइल और किसी भी प्रकार कि document जो कि hand written हो या हाथों से बनाया गया चित्र हो, उसे रीड कर समझने मे सक्षम होता है।

OCR (Optical Character Reader का उपयोग ज्यादातर Competitive exams मे विद्यार्थियों द्वारा भरे गए उत्तर पुस्तिका को चेक करने मे किया जाता है। यह 2600 अक्षर प्रति सेकंड मे रीड कर सकता है । इसका उपयोग करने से समय कि बचत होता है इसके साथ ही साथ यह काफी विश्वसनीय होता है।

#8. Barcode Reader

Barcode reader एक नॉन प्वॉइंटिंग इनपुट डिवाइस (Non Pointing input device) है, जो कि लगभग OCR इनपुट डिवाइस के जैसा ही होता है लेकिन यह mostly ‘QR Code’ और  ‘Bar code ‘ को रीड करता है अर्थात् यह QR code और Bar code मे लिखे निर्देशों को रीड करने मे सक्षम होता है और इस निर्देश को computer system को देता है, जिससे कम्प्यूटर सिस्टम दिए है निर्देश को परफॉर्म करता है।

Barcode reader का उपयोग ज्यादातर व्होल सेलो (whole sello) मे किया जाता है। इसी की सहायता से सेलर प्रोडक्ट्स कि बार कोड को स्कैन कर प्रोडक्ट्स का MRP निकालकर बिल बनाता है, जिससे समय कि बचत होती है और कार्य आसानी से पूर्ण हो जाता है।

Barcode reader - Non Pointing input device in Hindi

#9. Scanner

Scanner एक नॉन प्वॉइंटिंग इनपुट डिवाइस होता है जिसे आप mostly कम्प्यूटर चॉइस सेंटर में देख सकते है। यह एक फ्लैट rectangle पतली बॉक्स के जैसा होता है । यह किसी भी प्रकार कि प्रिंटेड डॉक्यूमेंट और इमेजेस को रीड करने का काम करती है।

Scanner के अंदर transperent सेंसिटिव ग्लास लगी होती है, जिस पर document को रखा जाता है। स्कैनर के अंदर Sensitive light beam निकलती है जो ग्लास से होते हुए ग्लास के ऊपर रखे डॉक्यूमेंट फाइल पर पड़ती है, जिससे यह light रिफ्लेक्ट होकर पुनः स्कैनर के अंदर जाता है जिससे स्कैनर की सिस्टम उस डॉक्यूमेंट को रीड कर पाता है। 

Scanner उस स्थान को, जहां से  light रिफ्लेक्ट होकर वापस जाती है उसे लाइटेड (means 1s) और जहां से  light रिफ्लेक्ट नहीं होती है उसे डार्क (means 0s) मे कन्वर्ट कर, उसे कम्प्यूटर सिस्टम को देता है जिससे कम्प्यूटर सिस्टम उस document को रीड करता है और उसके अनुसार टास्क परफॉर्म कर हमे रिजल्ट देता है।

#10. Microphone

Microphone एक नॉन प्वॉइंटिंग इनपुट डिवाइस होता है, जिसका उपयोग आज कल जोर सोर से किया जा रहा है। इसका उपयोग मुख्यता Mobiles मे Voice search करने मे किया जाता है इसके साथ ही इसका उपयोग Loudspeaker मे भी किया जाता है। 

Microphone - Non Pointing input device

माइक्रोफोन (Microphone) एक छोटी सी device होती है, जो हमारे Voice को पहले elcetric Signals मे परिवर्तित करता है फिर इस Signals को रिसीवर सिस्टम को देता है जो पुनः इस Signals को Voice Signals मे परिवर्तित करता है। इसके बाद सिस्टम इस परिवर्तित Signals को आगे टास्क करने के लिए रिलीज़ कर देता है।

माइक्रोफोन (Microphone) एक Human Sensitive Device होता है जो हमारे द्वारा दिए गए instruction को तुरंत Signals मे कन्वर्ट करता है और प्रोसेस करता है। यह, अन्य इनपुट डिवाइस कि तुलना में Fast होता है।

#11. QR code Reader

QR code कंप्यूटर द्वारा जेनरेट किया गया एक पैटर्न है जो काफी कम मात्रा में डेटा को स्टोर कर सकता है |  QR code Reader एक ऐसा डिवाइस है जो QR code में स्टोर डेटा को रीड करने का कार्य करता है | 

QR code में सामान्यतः URL address, contact information, calendar entries, और किसी product की जानकारियाँ स्टोर हो सकती है जिसे हम QR code Reader  की मदद से read कर सकते है | 

आपने अपने मोबाइल में कई बार  QR code Reader का इस्तेमाल QR code में स्टोर डेटा को रीड करने के लिए किया ही होगा | 

Benefits of QR codes

  • डेटा पैटर्न के फॉर्म में स्टोर होता है 
  • डेटा को आसान तरीके से स्टोर और प्राप्त कर सकते है | 
  • कई तरह के इनफार्मेशन स्टोर कर सकते है | 

Drawbacks of QR codes

  • डेटा बदलने से पैटर्न भी बदल जाता है इसलिए इसमें ऐसे इनफार्मेशन को स्टोर करना उचित नहीं होता जिसे हमे बार बार बदलना होता है जैसे – किसी प्रोडक्ट की प्राइस | 
  • QR codes में स्टोर डेटा को पढ़ने के लिए QR codes रीडर की जरुरत पड़ती है | 

#12. Biometric Devices

Biometric devices ऐसी इनपुट डिवाइस है जिसका उपयोग बायोमेट्रिक डेटा को कंप्यूटर में इनपुट करने के लिए किया जाता है | 

बायोमेट्रिक डिवाइस अलग अलग जरूरतों के हिसाब से मार्किट में अलग अलग मिलते है जैसे -:

  1. Face scanner
  2. Hand scanner
  3. Finger scanner
  4. Retina or Iris Scanner:
  5. Voice scanner

1. Face scanner

Face scanner डिवाइस को इसलिए लिए बनाया गया है ताकि इसकी मदद से किसी व्यक्ति के फेस को स्कैन करके उस व्यक्ति को सत्यापित कर सके |

Face scanner व्यक्ति के फेस का मेज़रमेंट लेता है जैसे – नाक, आंख और माउथ के बिच कितना डिफ़्फरेंस है ,और यह इसके आधार पर किसी व्यक्ति को identify करता है | इसकी मदद से हम आसानी से किन्ही दो व्यक्ति के बिच के डिफरेंस का पता लगा सकते है | 

2. Hand scanner

इसका इस्तेमाल किसी व्यक्ति के हाथ को स्कैन करके उसकी पहचान को सत्यापित करने के लिए किया जाता है | Hand scanner व्यक्ति के हथेली को स्कैन करके किसी व्यक्ति की पहचान करता है। यह इंफ्रारेड लाइट का उपयोग नसों के पैटर्न और उनमें बहने वाले रक्त को स्कैन करने के लिए करता है। 

3. Finger scanner

fingerprints scanner, किसी व्यक्ति की identify उसके fingerprints को स्कैन करके करता है | 

fingerprints scanner को इस बात को दिमाग में रख कर बनाया गया है कि किन्ही भी दो व्यक्ति के fingerprints कभी एक जैसे नहीं हो सकते | 

इसका उपयोग ज्यादातर कम्पनीज और सरकारी दफ्तरों में employees के अटेंडेंस के लिए किया जाता है | 

जब आप fingerprints scanner में अपना finger प्रेस करते है तो यह डेटाबेस में मौजूद डेटा से जानकारियां लेता है और आपके fingerprints से उसकी मैच करता है और पहचान करता है कि ये fingerprints किसके है? 

यदि fingerprints scanner के डेटाबेस में आपका fingerprints का डेटा पहले से नहीं होगा तो यह नहीं पहचान पायेगा कि ये fingerprints किस व्यक्ति के है | 

4. Retina or Iris Scanner:

यह व्यक्ति के Retina or Iris को स्कैन करके व्यक्ति का सत्यापन करता है | यह बाकि बायोमेट्रिक डिवाइस की तुलना में काफी ज्यादा सिक्योर होता है क्योंकि रेटिना या आईरिस की कॉपी करना संभव नहीं है | 

यह आंख के रेटिना के रक्त वाहिका पैटर्न को मैप करके काम करता है। इस स्कैन में, स्कैनर की ऐपिस के माध्यम से कम-ऊर्जा अवरक्त प्रकाश की किरण रेटिना पर पड़ती है। फिर, सॉफ्टवेयर रेटिना में रक्त वाहिकाओं के नेटवर्क को पकड़ लेता है और इसका उपयोग किसी व्यक्ति की पहचान को सत्यापित करने के लिए करता है।

5. Voice scanner

Voice scanner व्यक्ति की आवाज को स्टोर करता है और जब व्यक्ति की पहचान करना होता है कि यह व्यक्ति सही है या नहीं तो इसके Voice को Voice scanner

की मदद से स्कैन करके पुराने voice से मैच किया जाता है और यदि voice मैच कर जाती है तो यह बता देता है कि दोनों voice एक ही व्यक्ति के है | 

Voice scanner ज्यादा भरोसेमंद नहीं है क्योंकि टेप रिकॉर्डिंग का उपयोग करके इसका गलत उपयोग किया जा सकता है।

#13. Digital Camera

डिजिटल कैमरा एक ऐसा इनपुट डिवाइस है जिसका उपयोग फोटो लेने या वीडियो बनाने के लिए किया जाता है | 

डिजिटल कैमरा द्वारा लिए गए फोटो या वीडियो फाइल्स को memory cards में स्टोर किया जाता है | इन मेमोरी कार्ड को हम डिजिटल कमरे से निकल कर कंप्यूटर में स्टोर कर सकते है और अपने हिसाब से उन्हें Edit भी कर सकते है | 

डिजिटल कैमरा में image sensor chip होता है जो images को कैप्चर करने का कार्य करता है | 

इसमें एक LCD screen होता है जो यूजर को इमेज का preview करके देखने और  समीक्षा करने की अनुमति प्रदान करता है | 

डिजिटल कैमरा में एक फोटो सेंसर होता है जो प्रकाश को रिकॉर्ड करने का कार्य करता है | जब प्रकाश इन फोटोसेंसरों से टकराता है, तो सेंसर electrical current रिटर्न करता है | जिसका उपयोग चित्र बनाने के लिए किया जाता है।

Benefits of digital cameras

  • एलसीडी स्क्रीन यूजर को तुरंत इमेज और वीडियो को देखने की अनुमति प्रदान करता है | 
  • डिजिटल कैमरा हजारों images को स्टोर करके रख सकता है | 
  • डिजिटल कैमरा कम जगह लेता है और आसानी से ले दूसरे स्थान लाया ले जाया जा सकता है | 
  • Images को आसानी से कंप्यूटर में कॉपी और Edit किया जा सकता है | 

Drawbacks of digital cameras

  • इसमें लगे कार्ड की स्टोरेज कम होती है | 
  • यदि हम काफी ज्यादा मात्रा में फोटोज स्टोर करना चाहते है तो इनमे हम स्टोर नहीं कर सकते है | 

#14. Webcam

Webcam कंप्यूटर और इंटरनेट से जुड़ा होता है और फोटो और Videos को कैप्चर करता है | 

Webcam एक हार्डवेयर इनपुट डिवाइस है जो कंप्यूटर से USB के द्वारा कनेक्टेड होता है | ऐसे सभी कैमरा जो कंप्यूटर से जुड़ा होता है Webcam कहलाता है | 

कंप्यूटर (लैपटॉप) में इनबिल्ड आने वाले कमरे को भी हम Webcam कह सकते है क्योकि यह Photos ले सकता है Videos भी बना सकता है | 

Webcam की मदद से लिए गए फोटो और वीडियो को कंप्यूटर मेमोरी में ही स्टोर किया जाता है |  

Webcam, डिजिटल कैमरा से बिलकुल भिन्न होता है वो इसलिए क्योकि इसका उपयोग हम डिजिटल कैमरा की तरह स्वतंत्रतापूर्वक नहीं कर सकते और इसमें डेटा को स्टोर रखने के लिए अलग से कोई मेमोरी कार्ड भी नहीं होता | 

#15. Trackball

Track Ball एक इनपुट डिवाइस है जिसका उपयोग pointer/cursor को कण्ट्रोल करने के लिए किया जाता है | notebook or laptop computer में माउस की बजाय Track Ball का इस्तेमाल किया जाता है | 

Track Ball में लगे बॉल को जब फिंगर से घुमाया जाता है तब पॉइंटर भी घूमने लगता है | 

Track Ball को माउस की तुलना में ज्यादा स्पेस की जरुरत नहीं होती क्योकि इसमें पुरे डिवाइस को घुमाना नहीं पड़ता केवल बॉल के द्वारा हम पॉइंटर को कण्ट्रोल कर सकते है |

Benefits of trackballs

  • ऐसे काफी कम स्पेस की जरुरत होती है 
  • पॉइंटर को आसानी से कण्ट्रोल किया जा सकता है | 
  • कीबोर्ड के साथ आसानी से integrate किया जा सकता है | 

Drawbacks of trackballs

  • इसकी आदत पड़ने में समय लगता है | 

#16. Interactive Whiteboard

Interactive Whiteboard एक वर्सटाइल इनपुट डिवाइस है जिसपे आप अपने फिंगर से कुछ लिख या ड्रा कर सकते है | यहाँ पर वर्सटाइल का मतलब ऐसे डिवाइस से है जिसमे लिखा डेटा जल्दी से मिट जाता है |

Benefits of interactive whiteboards

  • स्क्रीन बड़ा होता है जिससे इसे एक साथ कई सारे लोग देख सकते है | 
  • प्रेजेंटेशन और पढाई में इसका उपयोग किया जाता है 
  • versatile इनपुट डिवाइस है | 
  • इसमें आप पेन या फिर अपने फिंगर की मदद से आसानी से लिख या ड्रा कर सकते है |

Drawbacks of interactive whiteboards

  • इसके साथ प्रोजेक्टर और कंप्यूटर की जरुरत होती है | 
  • तेज रोशनी में देखना मुश्किल हो सकता है | 

#17. Graphics Tablet or Digitizer

graphic tablet को digitizer के नाम से भी जाना जाता है | यह एक ऐसा इनपुट डिवाइस है जिसका उपयोग कंप्यूटर सिस्टम में हाथ से ड्रा करने या लिखने के लिए किया जाता है | graphic tablet सपाट सतह वाला होता है |

Graphics tablet में stylus जैसे स्पेशल पेन का उपयोग कंप्यूटर सिस्टम में ड्रा करने के लिए किया जाता है | digitizer यूजर द्दारा दिए गए इनपुट को कंप्यूटर स्क्रीन में दिखाने का कार्य करता है यह इनपुट को लाइन्स में और handwritten वर्ड्स को text written वर्ड्स में कन्वर्ट करता है |

यह यूजर को कंप्यूटर सिस्टम में ठीक उसी तरह ड्रा करने की सुविधा प्रदान करता है जिस तरह यूजर पेन से पेपर में ड्रा करता है | 

Graphics tablets का उपयोग हैंडराइटिंग सिग्नेचर के लिए भी किया जाता है | 

Benefits of graphics tablets

  • इसका उपयोग सिग्नेचर के लिए किया जा सकता है | 
  • कंप्यूटर स्क्रीन में ड्रा करने की अनुमति प्रदान करता है | 
  • बहुत बड़ा नहीं होता |  

Drawbacks of graphics tablets

  • इसका हाई एन्ड वर्शन ज्यादा महंगा होता है | 

#18. Paddle

यह एक साधारण इनपुट डिवाइस है जिसका उपयोग ज्यादातर गेम में किया जाता है | Paddle गेम में कर्सर के कंट्रोल या किसी ऑब्जेक्ट को आगे पीछे तेजी से मूव करता है | इसका का उपयोग जॉयस्टिक के विकल्प के रूप में किया जाता है |

#19. Steering Wheel

यह एक ऐसा इनपुट डिवाइस है जिसका उपयोग रेसिंग वीडियो गेम्स जैसे – कार रेसिंग गेम में एक virtual steering Wheel के रूप में किया जाता है | यह  यूजर को गेम में लेफ्ट और राइट टर्न लेने की सुविधा प्रदान करता है इसके साथ acceleration और  brake pedal भी आते है  जो कार को गति देने और रोकने के लिए उपयोग किया जाता है | 

यह रेसिंग गेम को कफी ज्यादा रियल, adventurous और entertaining बना देता है | 

#20. Gesture recognition devices

यह डिवाइस मनुष्य के इशारो को इनपुट के रूप में लेता है | मार्किट में इस तरह के कई सारे डिवाइस है जो व्यक्ति के इशारो पर प्रतिक्रिया करते है जैसे कि Kinect | यह वीडियो गेम्स में प्लेयर के बॉडी के इशारो को ऑब्ज़र्व करती है और उसके हिसाब से गेम में interprets करती है | 

#21. Light Gun

यह एक पॉइंटिंग इनपुट डिवाइस है जिसका उपयोग वीडियो गेम्स में टारगेट को पॉइंट करके शूट करने के लिए किया जाता है | 

लाइट गन का उपयोग सबसे पहले MIT Whirwind computer में किया गया था | 

जब लाइट पेन को स्क्रीन में दिख रहे किसी टारगेट पर पॉइंट किया जाता है और गन के ट्रिगर को दबाया जाता है तब स्क्रीन कुछ सेकंड के लिए ब्लेंक हो जाती है | 

जैसे – बचपन में एक गेम आता था duck hunt game करके जिसमे लाइट गन का उपयोग डक का शिकार करने के लिए किया जाता था | 

#22. Touchpad 

यह एक पॉइंटिंग इनपुट डिवाइस है जिसे आपने ज्यादतर लैपटॉप में देखा होगा | यह लैपटॉप में माउस की जहग इनपुट करने के लिए उपयोग किया जाता है | यह कर्सर के कण्ट्रोल को फिंगर की मदद से control और मूव करने की अनुमति प्रदान करता है |

Touchpad की मदद से आप वो सभी काम कर सकते है जो आप माउस की मदद से कर सकते थे जैसे – किसी फाइल को सेलेक्ट करना, फाइल या फोटो को सेलेक्ट करके कही भी मूव करना , कॉपी करना , पेस्ट करना आदि |  लैपटॉप में माउस की तुलना में touchpad ज्यादा सुविधाजनक होता है | 

FAQ – Frequently Asked Questions

प्राइमरी इनपुट डिवाइस क्या है?

कीबोर्ड और माउस को कंप्यूटर का Primary Input Device है क्योकि इन डिवाइस का उपयोग कंप्यूटर में इनपुट के लिए सबसे ज्यादा उपयोग किया जाता है | 

इनपुट डिवाइस कितने प्रकार के होते है?

इनपुट डिवाइस मुखयतः दो प्रकार के होते है – पॉइंटिंग इनपुट डिवाइस और नॉन पॉइंटिंग इनपुट डिवाइस | इन दोनों प्रकार के डिवाइस के बारे में मैंने आपको इस आर्टिल्स में विस्तार में बताया है |

इनपुट का अर्थ क्या है? (Input Meaning in Hindi)

कंप्यूटर द्वारा किसी कार्य को प्रोसेस करने के लिए आवश्यक डेटा को जब हम इनपुट डिवाइस की मदद से दर्ज करते है तो इसे ही इनपुट कहते है | इनपुट एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमे हम इनपुट डिवाइस की मदद से कोई डेटा या इन्फ्रोमेशन कंप्यूटर में दर्ज करते है |

कौन सा उपकरण इनपुट और आउटपुट दोनों है?

Touchscreen, Modems, Network cards ऐसे डिवाइस है जो इनपुट और आउटपुट दोनों ही तरह से कार्य करते है इसलिए इन डिवाइस को इनपुट आउटपुट डिवाइस कहते है |

Conclusion –

दोस्तों आज इस पोस्ट में हमे इनपुट डिवाइस से सम्बन्धितं काफी चीजे जानी जिसमे से ये कुछ मुख्य बिंदु निम्नलिखित है -:

  • Input Device Kya Hota Hai? [ What is Input Device in Hindi ]
  • इनपुट डिवाइस की आवश्यकता क्यों है? (Why the need for input devices in Hindi)?
  • इनपुट डिवाइस कितने प्रकार होते है? (Types of Input Device in Hindi)
  • इनपुट डिवाइस के 10+ उदाहरण | 10+ Examples of Input Devices In Hindi
    • Keyboard Kya Hai?
    • Mouse Kya Hai?
    • Joystick Kya Hai?
    • Touch Screen Kya Hai?
    • Light Pen Kya Hai?
    • Magnetic Ink Character Reader Kya Hai?
    • Optical Character Reader Kya Hai?
    • Barcode reader Kya Hai?
    • Scanner Kya Hai?
    • Microphone Kya Hai?
    • QR Code Reader Kya Hai?
    • Biometric Devices Kya Hai?
    • Digital Camera Kya Hai?
    • Webcam Kya Hai?
    • Trackball Kya Hai?
    • Interactive Whiteboard Kya Hai?
    • Graphics Tablet or Digitizer Kya Hai?
    • paddle Kya Hai?
    • Steering Wheel Kya Hai?
    • Gesture recognition devices Kya Hai?
    • Light Gun Kya Hai?
    • Touch Pad Kya Hai?

दोस्तों ऊपर दिए गए इन सभी टॉपिक्स को हमने इस पोस्ट में विस्तारपूर्वक समझाया गया है |

दोस्तों आशा करता हु कि आपको इनपुट डिवाइस क्या होता है? (What is Input Device In Hindi) इसकी परिभाषा क्या है? (Input device Definition in Hindi) और Input Device कितने प्रकार होते है?(Types of Input Device in Hindi) से संबंधित सभी जानकारी आपको हमारी इस पोस्ट में मिल गई होगी और आपको और कही इसके बारे में सर्च करना नहीं पड़ेगा |

मैंने कोशिश की है कि आपको Input Device से संबंधित सभी जानकारी इस एक पोस्ट दू | दोस्तों आशा करता हु कि आपको हमारी ये पोस्ट पसंद आयी होगी अगर आपको ये पोस्ट पसंद आयी है तो आप इस पोस्ट को अपने अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी ये जानकारी प्राप्त हो सके |

अगर आपको अभी भी input Device Kya Hai? से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप जरूर बताये मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

एसी ही नया टेक्नोलॉजी कंप्यूटर साइंस से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट masterprogramming.in को सब्सक्राइब कर दीजिए जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं जल्दी प्राप्त होगी |

Thank you आपका दिन मंगलमय हो |

पढ़ते रहिए और बढ़ते रहिए | Keep Reading and Keep Growing

Jeetu Sahu is A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging

Leave a Comment