Scanner क्या है? – What is Scanner In Hindi

हेलो फ्रेंड्स, आज के इस आर्टिकल में हम Scanner के बारे में बात करने वाले है। 

आज हम विस्तार से जानेंगे कि Scanner Kya Hai? Scanner कैसे काम करता है? Scanner कितने प्रकार के होते है? और Scanner का उपयोग क्यों किया जाता है। 

तो आइये अब बिना समय गवाए सबसे पहले ये जान लेते है कि स्कैनर क्या है? (What is Scanner In Hindi) 

Scanner

स्कैनर क्या है? – What is Scanner In Hindi

Definition of Scanner –: Scanner एक input device है जिसे optical scanner भी कहा जाता है। ये document या image को scan करके उसे digital format में परिवर्तित कर देता है। इसके बाद उस document या image को आप अपने कंप्यूटर में देख और edit भी कर सकते है। 

Scanner एक प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जिसका मुख्य कार्य किसी hard copies को digital format में store करके कंप्यूटर में भेजना होता है। 

Scanner से आप black & white तथा colorful फोटो को स्कैन कर सकते है। इसका इस्तेमाल कई जगहों जैसे ऑफिस, कार्यालयों, इत्यादि पर विभिन्न कार्यो के लिए किया जाता है। 

स्कैनर में scanning के लिए सॉफ्टवेयर होता है जो OCR (Optical Character Recognition) Technology का इस्तेमाल करता है। इसे Text recognition भी कहते है। यह physical document के printed text को scan करता है और document को machine readable text यानी जिसे मशीन पढ़ सके उसमे बदल देता है।  

स्कैनर को कंप्यूटर सिस्टम के साथ कनेक्ट किया जाता है जिसमें scanning software होता है और capture की गई इमेज को आप अपने अनुसार size adjust कर सकते है। स्कैनर के प्रमुख निर्माता Epson, Microtek, Relisys, आदि कंपनी है।  

स्कैनर कितने प्रकार के होते है? (Types of Scanner In Hindi)

बाज़ार में अनेक प्रकार के scanner मिलते है। जिन्हे उनको कार्यों और उपयोगों के आधार पर निम्न भागो में बांटा गया है जो है -:

1) Flatbed Scanner

स्कैनर क्या है? - What is Scanner In Hindi

Flatbed Scanner एक desktop scanner होता है। फ्लैटबेड स्कैनर एक प्रकार का optical device होता है, जिसमें दस्तावेजों को स्कैन करने के लिए काँच की एक सतह होती है जिस पर आपको दस्तावेज़ को रखकर ऊपर से ढक्कन को ढक लेना है। आजकल कई स्कैनर में automatic document feeder और Wireless फीचर्स या bluetooth connectivity जैसी सुविधाएं होती है।  

Flatbed स्कैनर का उपयोग सबसे अधिक होता है जिसे घरों में, कार्यालय में, आदि जगहों में देखने को मिलता है। 

2) Drum Scanner

Drum Scanner

Drum स्कैनर में PMT (Photo Multiplier Tube) तकनीक का इस्तेमाल होता है। यह स्कैनर image की उच्चतम resolution को capture करने के लिए उपयोग किया जाता है। इसमें image scan करने के लिए सिलेंडर लगे होते है जिसमें image को रखा जाता है। Image Scanning के दौरान सिलेंडर लगभग 1000 RPM की गति से घूमता है। 

इसमें एक light source जो की एक pixel पर केंद्रित करता है और ड्रम पर बीमित (beamed) होता है जो कुछ समय में ड्रम को नीचे एक पंक्ति में ले जाता है। अधिकतर, Drum scanner का इस्तेमाल मैगज़ीन या किताबे छापने वाली कंपनी करती है। कीमत बहुत अधिक होने के कारण Drum scanner का निर्माण कुछ कंपनी ही करती है। 

3) Handheld Scanner

Handheld Scanner

यह इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस होता है जो physical document को स्कैन करके digital form में बदलने के लिए इस्तेमाल होता है जिसको store, edit, transfer या ईमेल भी किया जा सकता है। इसे आप portable scanner भी कह सकते है।  क्योंकि इन्हे आसानी से कही पर भी ले जाया जा सकता है। 

Handheld scanner में सबसे जरुरी detector array होता है जिसमें tiny light sensor का एक सेट होता है। 

Handheld scanner से जब दस्तावेज़ को स्कैन किया जाता है तो स्कैनर page को रोशन करता है और उसमें मौजूद text या image को light point के एक सेट के रूप में उठाता है।  स्कैन करते समय स्कैनर ठीक से नहीं पकड़ने पर कार्य नहीं करता है। 

हैंडहेल्ड स्कैनर का उपयोग अनुभवी व्यक्ति करता है तो स्कैनर को सीधा रखकर स्कैन करने में मुश्किल नहीं होती है।  

इस स्कैनर का आकार छोटा होने के कारण इसे रखने के लिए बहुत कम स्थान की जरुरत होती है। इसको Portable scanner भी कहते है जिसे कही पर भी अपने साथ ले जा सकते है। 

हैंडहेल्ड स्कैनर छोटा लेकिन बहुत उपयोगी होता है तथा फ्लैटबेड स्कैनर की तुलना में इसकी कीमत भी कम होती है।  इसमें लगे roller दस्तावेज़ को छूकर कर लंबाई मापते है जो image या text को स्कैन करता है।   

4) Big Format Scanner 

इस प्रकार के स्कैनर का उपयोग बड़े आकार के document स्कैनिंग के लिए होता है। Big format scanner को अधिकतर बिल्डर, इंजीनियर, इत्यादि अपने कामों में करते है।

5) Barcode Scanner 

Barcode Scanner

यह भी एक प्रकार का ऑप्टिकल स्कैनर है जो barcode को scan करके कंप्यूटर में data भेजता है। इस स्कैनर में एक light sensors और एक लेंस लगा होता है। ये optical impulses (आवेगो) को इलेक्ट्रिकल impulses में परिवर्तित करता है। यह स्कैनर, barcode पर प्रकाश की किरण प्रर्दशित कर परावर्तित light की मात्रा मापकर कार्य करता है। इसका उपयोग दुकानों में barcode स्कैन के लिए किया जाता है।

6) Book Scanner

Book Scanner

इस स्कैनर से मैगजीन, textbook, novels या किताब scan हो सकता है। यह physical किताब को digital form में बदलता है। ये स्कैनर V आकार का होता है जिसके ऊपर किताब को रखा जाता है, फिर इसमें लगे दोनो overhead camera किताब की हर पेज capture करता है। 

Book scanning tools से data को पोस्ट प्रोसेस किया जाता है जो इसे digital format जैसे e book या PDF format में बदल देता है।

7) Image scanner

Image scanner एक digital device होता है। ये image या text को scan करता है और उस इमेज को कंप्यूटर में देखा जा सकता है।

Image स्कैनर, color array के जरिए red, green और blue रंग को read करता है। यह स्कैनर अधिक बड़ी नही होती परंतु इससे high resolution image प्राप्त होती है।

इसका उपयोग कई स्थानो जैसे उद्योगों, गेमिंग, आदि में होता है। सभी स्कैनर के प्रकार में image scanner का उपयोग सबसे अधिक होता है।

पहली बार Image scanner को सन् 1957 में Russell A. Krisch द्वारा US की National Bureaus of standards टीम के साथ मिलकर बनाया गया था। इस स्कैनर में सबसे पहले Krisch ने अपने बेटे का 5×5 cm की white and black तस्वीर को स्कैन किया था। 

8) Sheetfed Scanner 

Sheetfed Scanner 

इसे automatic document scanner या ADF scanner भी कहा जाता है। इसमें digital imaging system होता है जो सिर्फ paper sheet को ही स्कैन करता है। इसका उपयोग अधिकतर ऑफिस या बिजनेस में दस्तावेजों स्कैन करने के लिए होता है। 

यह स्कैनर document में print text को बदलकर digital text में करता है, इस प्रक्रिया को OCR (optical character recognition) कहते है। Sheetfed scanner में किताब या अन्य मोटी दस्तावेज स्कैन नहीं किया जा सकता ।

9) Roller Scanner 

इसमें rollers लगे होते है जो document को घुमाते है जिसमे कैमरा सेंसर के जरिए डिजिटल इमेज या document कैप्चर होता है। 

10) Biometric Scanner 

Biometric Scanner 

Biometric स्कैनर का उपयोग केवल उंगलियों के निशान को स्कैन करने में होता है।

स्कैनर का उपयोग क्या है? (Uses of Scanner In Hindi)

स्कैनर का उपयोग निम्नलिखित है -:

  • स्कूल या कॉलेज में प्रोजेक्ट बनाने के लिए कई स्रोतों से जानकारी इकट्ठा करना होता है। स्कैनर से उन्हें स्कैन करके कंप्यूटर में स्टोर किया जाता है।
  • स्कैनर से आप किसी भी पोस्टर या दस्तावेज को जितनी चाहे उतनी फोटोकॉपी एक क्लिक में प्राप्त कर सकते है।
  • यह digital archiving के लिए भी इस्तेमाल होता है। Digital Archiving एक प्रक्रिया है जो किसी भी hard copy को digital format में बदल कर कंप्यूटर में save करता है।
  • स्कैनर के जरिए आप अपने दोस्तो, रिश्तेदारों या परिवार के सदस्यो को इंटरनेट द्वारा स्कैन की गई फोटो आसानी से शेयर कर सकते है। 

स्कैनर के फायदे (Advantage of Scanner In Hindi)

स्कैनर के फायदे निम्नलिखित है -:

  • Scanner से आप अपने सभी जरूरी दस्तावेजों की digital copy कंप्यूटर में save करके रख सकते है जिससे अगर कभी दस्तावेज चोरी हो जाए तो आपके पास सुरक्षित रहे। 
  • इसका उपयोग करना काफी आसान होता है। इसमें कुछ ही क्लिक करने से document स्कैन हो जाते है और इसके लिए कोई advanced सेटअप करने की जरूरत नहीं होती । 
  • स्कैनर को wireless या bluetooth से भी कनेक्ट करके इस्तेमाल कर सकते है। इसके साथ ही आप अपने स्मार्टफोन से भी उपयोग कर सकते है।
  • यह आपके कार्य में लगने वाली समय की बचत और productivity लेवल भी बढ़ाता है।
  • यह environment friendly होता है क्योंकि स्कैनर में दस्तावेज़ digital form की रूप में होते है जिससे पेपर की बचत होती है। 

स्कैनर के नुकसान  (Disadvantage of Scanner In Hindi)

स्कैनर के नुकसान निम्नलिखित है -:

  • स्कैनर में document या image quality वास्तविक से थोड़ी अलग दिखती है। यह स्कैनर के लेंस और सेंसर पर निर्भर करता है।
  • बड़ी कंपनियां कीमती और बड़े स्कैनर रखते है जिससे उनके सभी कार्य हो सके लेकिन इन स्कैनर की maintenance में भी काफी खर्चे लगता है। 
  • स्कैनर में डॉक्यूमेंट या इमेज की scanning में काफी समय लगता है और यदि इमेज ज्यादा हुआ तो समय और भी अधिक लगता है।
  • स्कैनर में lamps स्कैनिंग के समय बहुत जरूरी है और अगर lamps सही कार्य नहीं करे तो image में बहुत तरह की गड़बड़ी होने लगती है। इस lamp को बदलने के लिए आपको सर्विस शॉप में जाना पड़ता है।  

Conclusion

दोस्तों आज के इस आर्टिल्स में हमने Scanner के बारे में बात की और जाना कि स्कैनर क्या है? (What is Scanner In Hindi) स्कैनर कितने प्रकार के होते है? (Types of Scanner In Hindi)और यह किस तरह से कार्य करता है?

अगर आप कंप्यूटर फंडामेंटल Complete Tutorial चाहते है तो मेरे इस आर्टिकल Computer Fundamental Tutorial In Hindi को देखे | यहाँ आपको कंप्यूटर फंडामेंटल्स के सभी टॉपिक्स step by step मिल जाएगी |

तो दोस्तों आशा करता हूँ कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा और यदि ये आर्टिकल आपको पसंद आया है तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी Scanner Kya Hai के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके .

अगर आपको अभी भी What is Scanner In Hindi से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप कमेंट्स के जरिए हमसे पुछ सकते है। मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

ऐसे ही नया टेक्नोलॉजी ,Computer Science से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब कर दीजिए | जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं जल्दी प्राप्त होगी |

Jeetu Sahu is A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging

Leave a Comment

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.