पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर (Fifth Generation of Computer In Hindi)

हेलो फ्रेंड्स, आज के इस आर्टिकल में हम विस्तार से जानेंगे कि पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर क्या है? (Fifth Generation of Computer In Hindi) उनकी क्या विशेषताएं है? (Features of Fifth Generation of Computer In Hindi) और उनके क्या फायदे व क्या नुकसान है?

तो आइये बिना समय गवाए जानते है पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर के बारे में |

कंप्यूटर की पांचवी पीढ़ी (Fifth Generation of Computer In Hindi)

कंप्यूटर की पांचवी पीढ़ी (Fifth Generation of Computer In Hindi)

1980 से अब तक के कंप्यूटर पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर (Fifth generation of computer) कहलाते हैं | 

पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर, जिन्हें आधुनिक कंप्यूटर भी कहा जाता है, अभी भी विकास के चरण में हैं और Artificial intelligence पर आधारित हैं। 1982 में जापान ने FGCS (Fifth Generation Computer System) का आविष्कार किया था। 

ये अधिक भरोसेमंद हैं और इनमें VLSI (Very large scale integration) की जगह ULSI (Ultra large scale integration) टेक्नोलॉजी का उपयोग किया गया हैं | 

इसने माइक्रोप्रोसेसरों के विकास में क्रांति ला दी। इससे निर्माताओं को माइक्रोप्रोसेसर चिप पर लगभग 10 मिलियन इलेक्ट्रॉनिक Components इकट्ठा करने में मदद मिली।

इस पीढ़ी के कंप्यूटर, हाई कंप्यूटिंग पावर और parallel processing के साथ माइक्रोइलेक्ट्रॉनिक टेक्नोलॉजी पर आधारित हैं। 

यह सबसे हालिया और तकनीकी रूप से उन्नत कंप्यूटर पीढ़ी है। आधुनिक High Level Languages जैसे कि Python, R, C#, C, C++, Java, .Net आदि का उपयोग प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के रूप में किया जाता है। 

कंप्यूटर में पैरेलल प्रोसेसिंग हार्डवेयर और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जाता है।  इसके अलावा, पाँचवीं पीढ़ी के कंप्यूटरों में मल्टी-थ्रेडेड और डिस्ट्रिब्यूटेड ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग किया जाता है, जो आसान मल्टीटास्किंग में मदद करते हैं।

ये कंप्यूटर आधुनिक वैज्ञानिक कैलकुलेशन में अत्याधुनिक हैं और इनका उपयोग Artificial intelligence (AI) सॉफ्टवेयर विकसित करने के लिए किया जा रहा है। 

आने वाला समय आर्टिफीसियल इंटेलीजेन्स का है, आपने Google Assistant का नाम तो सुना ही होगा, वो भी एक Artificial intelligence हैं | ऐसे ही Sofia, siri, ये भी Artificial intelligence है जिनको समय के साथ और भी ज्यादा डेवलप्ड किया जा रहा हैं | 

Artificial intelligence (AI) कंप्यूटर विज्ञान का एक लोकप्रिय क्षेत्र है जो मुख्य रूप से कंप्यूटर को अधिक realistic बनाने में मदद करती है। यह कंप्यूटर को इंसानों की तरह सोचने में सक्षम बनाता है; हालांकि, यह अभी विकास के चरण में है और इसमें अभी भी काफी सुधार की आवश्यकता है।

पांचवीं पीढ़ी का मुख्य लक्ष्य ऐसी मशीनें बनाना है जो खुद से सीख सकें और व्यवस्थित हो सकें। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और पैरेलल प्रोसेसिंग हार्डवेयर इस पीढ़ी के कंप्यूटरों के केंद्र में हैं

AI (Artificial Intelligence) का उपयोग, जो कंप्यूटर को अधिक शक्तिशाली बनाने में मदद करता है, 5वीं पीढ़ी के कंप्यूटरों के प्राथमिक तत्वों में से एक है। नेविगेशन से लेकर ब्राउजिंग तक, AI एप्लिकेशन हर जगह मिल जाते हैं। इसका उपयोग वीडियो एनालिसिस, इमेज  प्रोसेसिंग और अन्य कार्यों के लिए भी किया जाता है। 

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में रोबोटिक्स, न्यूरल नेटवर्क आदि शामिल हैं।

पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर AI (Artificial Intelligence) तकनीक का उपयोग करते हैं, जिसमें systems development, gameplay, और बहुत कुछ शामिल हैं। 

ये मशीनें AI तकनीक की बदौलत मानव भाषा की व्याख्या करने के साथ-साथ रेखांकन और तस्वीरों को पहचानने में सक्षम है।  इन कंप्यूटरों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाना सरल है। 

पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर की विशेषताएं (Features of Fifth Generation Computer In Hindi)

पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटरों की निम्नलिखित विशेषताएँ हैं -:

  1. Use of Artificial Intelligence:  5वीं पीढ़ी के कंप्यूटरों की मुख्य विशेषता यह है कि इस पीढ़ी के कंप्यूटरों ने AI (Artificial Intelligence) की अवधारणा का इस्तेमाल किया गया है, जो कंप्यूटर को अधिक शक्तिशाली बनाने में मदद करता है। आज नेविगेट करने से लेकर ब्राउज़िंग तक, हर जगह AI का उपयोग हो रहा हैं। इसके अलावा, AI का उपयोग वीडियो एनालिसिस, इमेज  प्रोसेसिंग और अन्य दूसरे समस्याओं को हल करने के लिए भी किया जा रहा है। 
  1. Huge Storage Capacity:  HDD जैसे उच्च भण्डारण क्षमता वाले स्टोरेज डिवाइस उपयोग किया गया है जो हमे बड़ी से बड़ी फाइल को स्टोर करने में मदद करते है |  हालांकि SSD स्टोरेज उपलब्ध है जो HDD की तुलना में तेज है इसलिए, पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर, तेज और बड़े भंडारण की क्षमता रखते हैं।
  1. Evolution of Multimedia-: Multimedia, ऑडियो (ध्वनि), text, ग्राफिक्स, एनिमेशन और वीडियो का संयोजन है जो कंप्यूटर द्वारा आपको प्रदान किया जाता  है।
  1. Different sizes of computer-: इस पीढ़ी में यूजर की आवश्यकता के अनुसार अलग अलग साइज के कंप्यूटर उपलब्ध हैं।
  1. Use of Internet-: इंटरनेट एक ऐसी टेक्नोलॉजी है जो पूरी दुनिया के लोगो को आपस में जोड़ने का कार्य करता है। लोग जानकारी के लिए इंटरनेट पर खोज कर सकते हैं, नई जानकारी जोड़ सकते हैं और विभिन्न विषयों पर विचारों का आदान-प्रदान कर सकते हैं।
  1. इस पीढ़ी के कंप्यूटरों में ULSI (ultra large scale integration) तकनीक का उपयोग किया गया है।
  1. कंप्यूटर की पांचवी पीढ़ी में पीसी को कम कीमत में खरीदा जा सकता है। 
  1. ये अधिक पोर्टेबल और पावरफुल हैं।
  1. कंप्यूटर भरोसेमंद और कम खर्चीले हैं। इनका निर्माण करना आसान है। 
  1. इस पीढ़ी के कंप्यूटरों में Parallel processing का उपयोग किया जाता है।
  1. पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर में यूजर के अनुकूल इंटरफेस और मल्टीमीडिया फ़ंक्शन शामिल हैं।
  1. HDD और SSD जैसे स्टोरेज डिवाइसेस के कारण इनकी भण्डारण क्षमता काफी ज्यादा और तेज हो गई है | 

पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर का उदाहरण (Examples of Fifth Generation Computer)

पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर के उद्हारण हैं –

  1. Desktop
  2. Laptop
  3. NoteBook
  4. Chromebook
  5. UltraBook
  6. Tablet 
  7. PARAM 10000 etc. 

पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर के लाभ (Advantages of Fifth Generation Computer in Hindi)

पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर के निम्नलिखित Advantages है -:

  1. इस पीढ़ी के कंप्यूटर अधिक विश्वसनीय हैं और पिछले कंप्यूटरों की तुलना में तेजी से कार्य करते हैं। इनकी प्रोसेसिंग स्पीड काफी ज्यादा है। 
  2. पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटरों में AI के उपयोग के कारण, कंप्यूटर मानव भाषा को समझने में सक्षम हो गए हैं और व्यक्तियों और चीजों की तस्वीरों को भी पहचान सकते हैं।
  3. पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर आकार में बहुत छोटे होते हैं और इन्हें आसानी से एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाया जा सकता है। 
  4. पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर की गति पिछली पीढ़ी के कंप्यूटरों की तुलना में काफी बेहतर है। साथ ही, ये अधिक विश्वसनीय और सटीक हैं।
  5. पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटरों में यूजर इंटरफेस बहुत अच्छा है, जिससे उन्हें संचालित करना आसान हो जाता है।
  6. पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटरों में हीटिंग की कोई बड़ी समस्या नहीं है।
  7. इन कंप्यूटरों को सुधारना बहुत आसान है।
  8. पांचवीं पीढ़ी में विकसित कंप्यूटर अपने पूर्ववर्ती कंप्यूटरों की तुलना में काफी कम बिजली खपत करते हैं।
  9. पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर काफी कम कीमत पर उपलब्ध हैं और इसीलिए आज वे लगभग हर क्षेत्र में व्यापक रूप से उपयोग हो रहे हैं।
  10. पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटरों में लगभग सभी उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषाएं supported हैं।
  11. वे पोर्टेबल और संभालने में आसान हैं।
  12. ये कंप्यूटर विभिन्न आकारों और विशेषताओं में उपलब्ध हैं।
  13. भले ही पांचवीं पीढ़ी अभी भी विकास के चरण में हों लेकिन इस पीढ़ी में बने कंप्यूटर अधिक शक्तिशाली और गति में तेज हैं | 
  14. पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर AI (artificial intelligence) टेक्नोलॉजी का उपयोग करते हैं। 
  15. पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटरों का विकास प्राकृतिक भाषा के साथ काम करने सहित अत्यधिक जटिल समस्याओं को हल करने के लिए किया गया है।

पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर के नुकसान (Disadvantages of Fifth Generation Computer In Hindi)

पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर के निम्नलिखित Disadvantages है -:

  1. पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर का उपयोग इतना आसान है की लोग इनका जरुरत से ज्यादा इस्तेमाल कर रहे है इससे  इंसान के दिमाग को सुस्त और बर्बाद हो रहा है।लोगो में आलस्यता बढ़ रही है | 
  1. पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटरों का व्यापक रूप से उपयोग करने पर थोड़ी मात्रा में हीट उत्पन्न करते है।
  1. पांचवी पीढ़ी में कम्प्यूटरों के व्यापक उपयोग के कारण कम्प्यूटरों और उनके पुर्जों का बहुत अधिक अपव्यय होता है जो पर्यावरण को नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है।
  1.  स्वचालन, सटीकता और विश्वसनीयता के कारण कंप्यूटर ने विभिन्न क्षेत्रों में मनुष्यों की जगह ले ली है। जिससे बेरोजगारी बढ़ रही है।
  1. कंप्यूटर मानव स्वास्थ्य को प्रभावित कर रहे हैं और मानव मस्तिष्क की रचनात्मकता और सोचने की क्षमता को मंद और बर्बाद कर रहे हैं।
  1. कंप्यूटर कई मामलों में एक खतरा हो सकता है क्योंकि कंप्यूटर सिस्टम का उपयोग करके विभिन्न प्रकार के साइबर अपराध किए जा सकते हैं। जो आज के समय में सबसे बड़ी चुनौती है | 
  1. पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर, नेटवर्क और संचार का अच्छा उपयोग कर रहे हैं; हालांकि, कुछ बुरे लोग इस तकनीक का इस्तेमाल लोगों तक गलत और अनुचित जानकारी फैलाने के लिए करते हैं।

Read More

Conclusion

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमनें पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर के बारे में बात की और जाना कि पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर क्या है? (Fifth Generation of Computer In Hindi) उनकी क्या विशेषताएं है? (Features of Fifth Generation of Computer In Hindi) और उनके क्या फायदे व क्या नुकसान है? (Advantages and Disadvantages of Fifth Generation of Computer In Hindi)

दोस्तों आशा करता हु कि आज के इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको फिफ्थ जनरेशन कंप्यूटर (Fifth Generation of Computer In Hindi) से संबंधित सभी जानकारी मिल गई होगी |

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आया है तो इस पोस्ट को अपने अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी कंप्यूटर के पांचवीं पीढ़ी के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके |

अगर आपको अभी भी पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर (Fifth Generation of Computer In Hindi) से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप कमेंट्स के जरिए हमसे पुछ सकते है। मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

ऐसे ही नया टेक्नोलॉजी ,Computer Science, computer fundamentals से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब कर दीजिए | जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं जल्दी प्राप्त होगी |

Jeetu Sahu is A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging

Leave a Comment

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.