Generation of Computer in Hindi (कंप्यूटर की पीढ़ियाँ )

कंप्यूटर की पीढ़ियाँ (Generation of Computer in Hindi)

जनरेशन ऑफ़ कंप्यूटर (Generation of Computer) शब्दावली कंप्यूटर की टेक्नोलॉजी में लगातार होने वाले परिवर्तनों के कारण आया |

कंप्यूटर के प्रत्येक पीढ़ी टेक्नोलॉजी में हुए विकास का परिणाम हैं जैसे जैसे कंप्यूटर की टेक्नोलॉजी में डेवलपमेंट होने लगा वैसे वैसे कंप्यूटर की जनरेशन का विकास हुवा | 

शुरुवात में जनरेशन शब्द का उपयोग अलग-अलग हार्डवेयर टेक्नोलॉजी के बीच अंतर करने के लिए  किया गया था मगर आजकल जनरेशन में  हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर दोनों ही शामिल हैं जो कि एक कंप्यूटर सिस्टम बनाने में काफी महत्वपूर्ण हैं | 

आज तक कंप्यूटर की कुल पांच पीढ़ियाँ ज्ञात हैं और प्रत्येक पीढ़ी का विकास टेक्नोलॉजी में होने वाले क्रमागत उन्नति तथा विशेषताओं जैसे कि गति, स्टोरेज क्षमता, लागत, विश्वसनीयता, बिजली की खपत, पोर्टबेलिटी आदि में होने वाले बदलाव के कारण हुवा हैं | 

कंप्यूटर की टेक्नोलॉजी में होने वाले इन सभी बदलाव के परिणामस्वरूप तेजी से अधिक शक्तिशाली, छोटे, सस्ते, और अधिक कुशल और विश्वसनीय कंप्यूटर उपकरणो का विकास हुवा।

आइये अब हम कंप्यूटर के पीढ़ी के बारे में से जानते हैं – 

  • प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर (1946-1959)
  • द्वितीय पीढ़ी के कंप्यूटर (1959-1965)
  • तृतीय पीढ़ी के कंप्यूटर (1965-1971)
  • चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर  (1971-1980)
  • पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर (1980 – अब तक)

प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर (First generation of computer in Hindi)

1946-1959 के बिच के कंप्यूटर प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर (First Generation of Computer) कहलाते हैं | प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर  में प्रोसेसर के रूप में वैक्यूम ट्यूब का उपयोग किया गया था |

वैक्यूम ट्यूब कांच की एक नाली होती थी | वैक्यूम ट्यूब का उपयोग करने के कारण प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर काफी गर्मी पैदा करते थे |

साथ ही ये काफी बड़े होते थे इनका आकर एक बहुत बड़े कमरे जितना हुवा करता था | इस कारण इसका मेंटनेंस करना काफी मुश्किल होता था प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर को ऑपरेट करने के लिए कई लोगो की जरुरत होती थी | 

प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर में स्टोरेज के रूप में चुंबकीय ड्रम (magnetic drums) का उपयोग किया जाता था | इस जनरेशन के कम्प्यूटर्स में इनपुट के लिए पंच कार्ड का उपयोग किया गया था और प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के रूप में मशीन लैंग्वेज का उपयोग किया गया था |

 प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर के उद्हारण हैं –

  • ENIAC
  • EDVAC
  • UNIVAC
  • IBM-701
  • IBM-650

दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर (Second generation of computer in Hindi)

1959-1965 के बिच के कंप्यूटर दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर (Second generation of computer) कहलाते हैं | दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर में प्रोसेसर के रूप में वैक्यूम ट्यूब की जगह ट्रांजिस्टर का उपयोग किया गया था जिसके कारण दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर की तुलना में थोड़ा छोटे हो गए थे | मगर अभी भी आज के कंप्यूटर से काफी बड़े थे |

दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर में स्टोरेज के रूप में मैगनेटिक कोर (Magnatic Core ) का उपयोग किया जाता था| इस जनरेशन के कम्प्यूटर्स में प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के रूप में असेंबली लैंग्वेज का उपयोग किया गया था क्योकि असेंबली लैंग्वेज इसी जनरेशन में आई थी |

दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर के उद्हारण हैं –

  • Honeywell 400
  • IBM 7094
  • CDC 1604
  • CDC 3600
  • UNIVAC 1108

तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटर (Third generation of computer in Hindi)

1965-1971 के बिच के कंप्यूटर तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटर (Third Generation of Computer) कहलाते हैं |तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटर में प्रोसेसर के रूप में ट्रांजिस्टर की जगह इंट्रीगेटेड सर्किट (integrated circuit ) का उपयोग किया गया था |

integrated circuit को J. S. Kilbi ने बनाया था | IC (integrated circuit ) को LSI (Large Scale Integration) भी कहा जाता हैं|

तीसरी पीढ़ी के दौरान ही Fortran ,Cobol ,BASIC ,C आदि प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का अविष्कार हुवा था इसलिए तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटर में प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के रूप में Fortran ,Cobol ,BASIC ,C का उपयोग हुवा था |

तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटर के उद्हारण हैं –

  • IBM 360
  • IBM 370
  • PDP-8
  • PDP-11
  • ICL 2900

क्या आपको पता हैं कि Apple company जो की दुनिया का बड़ी कंपनी हैं के कंप्यूटर तीसरी जनरेशन (Third Generation ) में ही आये थे |

चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर  (Fourth generation of computer in Hindi)

1971-1980 के बिच के कंप्यूटर चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर (fourth generation of computer) कहलाते हैं | चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर में प्रोसेसर के रूप में इंट्रीगेटेड सर्किट (integrated circuit ) की जगह माइक्रोप्रोसेसर/VLSI (Very Larg Scale Intregation ) का उपयोग किया गया था |

चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर के उद्हारण हैं –

  • DEC 10
  • PUP 11
  • IBM 4341
  • STAR 1000

क्या आपको पता हैं कि Intel विश्व की पहली ऐसी कंपनी थी जिसने सबसे पहले माइक्रोप्रोसेसर बनाया था और “Intel 4004” विश्व का पहला माइक्रोप्रोसेसर था |

पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर (Fifth generation of computer in Hindi)

1980 से अब तक के कंप्यूटर पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर (Fifth generation of computer) कहलाते हैं | पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर में प्रोसेसर के रूप में VLSI (Very large scale integration ) की जगह ULSI (Very large scale integration) का उपयोग किया गया हैं |

आर्टिफीसियल इंटेलीजेन्स कंप्यूटर की पांचवीं पीढ़ी में ही आया | आने वाला समय आर्टिफीसियल इंटेलीजेन्स का है आपने गूगल अस्सिस्टेंस का नाम तो सुना ही होगा |वो भी एक आर्टिफीसियल इंटेलीजेन्स हैं ऐसे ही सोफ़िया ,श्री ये भी आर्टिफीसियल इंटेलीजेन्स है जिनको समय के साथ और भी ज्यादा डेवलप्ड किया जा रहा हैं | 

पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर के उद्हारण हैं –

  • Desktop
  • Laptop
  • NoteBook
  • Chromebook
  • UltraBook

इन्हे भी पढ़े – :

Conclusion

दोस्तों आशा करता हु कि आज के इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप कंप्यूटर की पीढ़ियों  (Generation of Computer in Hindi) के बारे में अच्छे से जान गए होंगे |

अगर आपको Computer Generation in Hindi से सम्बंधित या किसी और चीज के बारे में जानना चाहते हो तो जरूर बताये मैं आपके सभी सवालों का जवाब अवश्य दूंगा |

दोस्तों आशा करता हु कि आपको ये पोस्ट पसंद आई होगी और आपको कंप्यूटर की पीढ़ियों (Generation of Computer in Hindi) के बारे में काफी जानकरी हुई होगी | 

दोस्तों अगर आपको ये पोस्ट “कंप्यूटर की पीढ़ियाँ (Generation of Computer in Hindi)” पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे ताकि उनको भी कंप्यूटर की जनरेशन (Generation of Computer in Hindi) के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त हो सके |

ऐसे ही जानकारियों के लिए आप हमारे वेबसाइट MasterProgramming.in को सब्सक्राइब कर ले जिससे की आने वाली नई पोस्ट की जानकारी आप तक जल्दी पहुंचे |

पढ़ते रहिए और बढ़ते रहिए | Keep Reading and Keep Growing

Jeetu Sahu is A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging

2 thoughts on “Generation of Computer in Hindi (कंप्यूटर की पीढ़ियाँ )”

Leave a Comment