VPN क्या है? (What is VPN in Hindi)

यदि आप इंटरनेट उपयोग करते है तो आपने कभी न कभी VPN का नाम तो सूना ही होगा | मगर ये VPN क्या है? (What is VPN in Hindi) इसका क्या उपयोग है? तथा VPN कैसे काम करता है? आदि कुछ सवाल है जिसके बारे में आज हम जानने करने वाले है |

साथ ही आज हम ये भी जानेंगे कि VPN किसको उपयोग करना चाहिए और VPN उपयोग करने के क्या फायदे है और क्या नुकशान है? ( Advantages and Disadvantages of VPN in Hindi ) 

तो चलिए बिना समय गवाए सबसे पहले जानते है कि VPN Kya Hai?

VPN क्या है? (What is VPN in Hindi)
VPN क्या है? (What is VPN in Hindi)

VPN Kya Hai? (What is VPN in Hindi)

VPN एक बेहतरीन टूल है जो हमारे डाटा को सुरक्षित करने का कार्य करता है | जब भी कोई यूजर VPN का उपयोग अपने मोबाइल या सिस्टम में करता है तो VPN  उनकी पर्सनल डाटा और लोकेशन को Hide कर देता है जिससे यूजर के डेटा को किसी भी प्रकार का खतरा नहीं होता है | 

इसका उपयोग ज्यादातर सरकारी संस्था, हॉस्पिटल, एजुकेशनल इंस्टिट्यूट और बड़े बड़े कारपोरेशन में होता है | इन संस्थानों द्वारा VPN का उपयोग इसलिए भी किया जाता है ताकि ये अपनी डेटा को unauthorized यूजर के Access से बचा सके | 

VPN आपकी डाटा को पूरी तरह सुरक्षित करने के साथ साथ आपकी लोकेशन को भी हाईड कर देता है जिससे कोई भी आपके लोकेशन का पता नहीं लगा सकता | 

VPN का फुल फॉर्म Virtual Private Network है | जो सभी तरह के data को यानि जो जरुरी है और जो जरुरी नहीं भी है सभी को Secure रखता है | 

आम व्यक्ति जो internet का इस्तेमाल browsing करने के लिए करते हैं वो भी VPN application के जरिये VPN service का इस्तेमाल अपने phone या Computer पर बड़े ही आसानी से कर सकते हैं | 

VPN कैसे काम करता है? (How VPN Work in Hindi)

VPN एक लोकल नेटवर्क की तरह काम करता है | ये यूजर और सर्वर के बीच एक सिक्योर कनेक्शन बनाता है जिससे की कोई भी यूजर के डाटा या इनफार्मेशन को  चोरी नही कर सकता | 

आपने देखा होगा है कि हमारे देश में कई सारे ऐसे वेबसाइट और प्लेटफॉर्म है जैसे – Tiktok , Pubg आदि जो दूसरे देश की तुलना हमारे देश में ब्लॉक या Ban है |

यदि यूजर इन Ban वेबसाइट के सर्वर से कनेक्शन बनाना चाहता है तो वह VPN की  मदद से कनेक्शन बना सकता है | 

इस प्रक्रिया में यूजर अपने डिवाइस में VPN की मदद से उस देश की वेबसाइट के सर्वर पर request  भेजता है जो हमारे देश में Ban है ,और उसेक बाद वह VPN के द्दारा उस सर्वर से कनेक्शन बनाने में सक्षम हो जाता है | 

कोई भी उस यूजर के किसी भी प्रकार की डेटा, इनफार्मेशन और उसकी लोकेशन का पता नहीं लगा सकता है क्योंकि सारा डाटा encrypted होता है |  

उदारहण – उदारहण – जैसे की हम जानते है कि कई सारे ऐसे pubg game lover है जो VPN का उपयोग करके इस pubg game को खेलते थे क्योकि pubg गेम हमारे देश में ban हो चूका था इसलिए ये vpn का उपयोग करके इस गेम को खेलते थे | 

VPN के जरिये हम उन सभी apps या वेबसाइट को acess कर सकते है जो एक प्राइवेसी पालिसी के तहत हमारे देश में ban है | 

VPN का इस्तेमाल करने के लिए internet पर बहुत सारे software मौजूद हैं | कुछ VPN  free version के हैं और कुछ paid version के हैं जिनका इस्तेमाल आप अपने smartphone और Computer दोनों में install करके कर सकते हैं.

VPN का उपयोग कैसे करे?

सबसे पहले आप एक अच्छे VPN सर्विस प्रोवाइडर का चुनाव कीजिये जिसे आप उपयोग में लेना चाहते है | फिर इसकी वेबसाइट में जाकर आप अपने सिस्टम के अनुकूल सॉफ्टवेयर को डाउनलोड कर लीजिये | 

यदि आप एक मोबाइल यूजर है तो आप प्लेस्टोर में जाकर इसे डाउनलोड कर सकते है क्योंकि वहां आपको कई सारे APPS मिल जायेगे | 

डाउनलोड करने के बाद आपको अपना VPN अकॉउंट बनाना होगा फिर आप लॉगिन कीजिये | 

लॉगिन करने के बाद आप VPN को यूज़ कर सकते है | इसके बाद आप अपना VPN सर्वर सेलेक्ट करे या लोकेशन सेलेक्ट करे और कनेक्ट हो जाईये |

VPN से कनेक्ट होने के बाद इंटरनेट की रोमांचक दुनियां में अब कोई आपको पता नहीं लगा सकता | 

हालाँकि जो कंपनी आपको VPN प्रदान कर रही है उसके पास ये इनफार्मेशन हो सकती है कि आप VPN की मदद से कौन कौन से वेबसाइट के जा रहे है और इंटरनेट में क्या क्या गतिविधिया कर रहे है | इसलिए मैं आपको सुधाव देना चाहूंगा कि आप एक Trusted कंपनी से ही VPN ख़रीदे, वरना कब आपका डेटा कहा बिक रहा होगा कहा नहीं जा सकता | 

VPN किसे यूज़ करना चाहिए | 

VPN का उपयोग हर वो व्यक्ति कर सकता है जो एक महत्वपूर्ण काम से संबंधित है जैसे की सरकारी एजेंसीज ,बैंक ,कॉर्पोरेट ,टैक्स डिपार्टमेंट, हॉस्पिटल इत्यादि | 

साथ ही ऐसे व्यक्ति जिन्हे उनके डेटा चोरी होने का खतरा है वो VPN का उपयोग कर सकते है और अपनी डेटा और इनफार्मेशन को किसी भी प्रकार के अनचाहे एक्सेस से बचा सकते है | 

मैं ऐसे लोगो को VPN यूज़ करने की सलाह नहीं देता जो अपने डिवाइस को केवल नार्मल ब्राउज़र चलाने व अपने मनोरंजन के लिए करते है | 

VPN अपनी प्राइवेसी को तो सिक्योर करता है मगर साथ ही यह आपके इंटरनेट स्पीड को भी थोड़ा कम कर देता है क्योकि आपका request VPN के माध्यम से जाता है जिससे टाइम थोड़ा बढ़ जाता है | 

लेकिन आप चाहे तो किसी भी प्रकार के BLOCK वेबसाइट को ACESS करने के लिए इसका उपयोग कर सकते है | 

VPN के फायदे (Advantages of VPN in Hindi)

  1. VPN का फायदा ये है कि इसका उपयोग करके किसी भी BLOCK वेबसाइट को ACESS कर सकते है | 
  1. इसका उपयोग करके हम अपने Country लोकेशन को बदल सकते है जैसे की कोई वेबसाइट हमारे देश में BAN है तो हम अपने Country लोकेशन को बदल कर उस ब्लॉक वेबसईट को ACESS कर सकते है | 
  1. इसका मुख्य फायदा ये है कि इनमे सारी इनफार्मेशन ENCRYPTED होती है | तो आप इसका उपयोग कर हैकर से बचने के लिए भी कर सकते है | 
  1. आपका डेटा VPN के उपयोग से कितना सिक्योर है ये इस बात पर डिपेंड करता है कि आप कौन सा VPN उपयोग कर रहे हो क्योकि मार्किट में VPN के PAID वर्शन भी होते है और फ्री भी होते है | 

VPN के नुकसान (Disadvantages of VPN in Hindi)

  1. VPN के सर्वर पर हमारी सारी डिटेल होती है इसलिए ऐसा नहीं है कि VPN का उपयोग करके हम पूरी तरह से अपने आप को छुपा ले और हमे कोई पकड़ नहीं सकता |
  1. VPN के नुकसान ये भी है कि हैकर इसका उपयोग करके अपनी सारी इनफार्मेशन को छुपा सकता है और अपने काम में कामयाब हो सकता है | 
  1. ये कोई नहीं कह सकता है कि VPN सर्वर आपकी डाटा का कोई मिसयूज नहीं करेगा, क्योकि उनके पास आपके द्वारा ACEESS की गयी सारी इनफार्मेशन होती है इसलिए ज्यादातर HACKER अपनी पहचान छुपाने के लिए PAID VERSION का उपयोग करते है | 
  1. जैसे की PAID VERSIONS में आपके डाटा की चोरी होने का कोई भी खतरा नही होगा इसके विपरीत फ्री Version में डाटा की चोरी या HACK होने की संभावना हो सकती है | इसलिए आप एक paid वर्शन वाले vpn का ही उपयोग करे |
  1. ज्यादातर VPN का उपयोग करते समय आपकी INTERNET की स्पीड स्लो हो जाती है ऐसा इसलिए होता है क्योकि आपके और गूगल के बीच एक और सर्वर जुड़ा होता है वो है VPN सर्वर | 

Important Message About VPN

मै आपको बता दू कि जहां तक हो सके आप कभी भी FREE VPN की चक्कर में न ही पड़े तो अच्छा है क्योकि ये आपको कभी भी गारंटी नई देता कि ये आपकी सभी डाटा को सुरक्षित रखेगा और FREE VPN में ज्यादा सिक्योरिटी Features भी नहीं होते |

जहाँ तक हो सके आप हमेशा एक PAID वर्शन VPN ही यूज़ करे इसमें आपकी सारी डाटा सिक्योर रहेगा और आपको किसी भी प्रकार का खतरा नहीं होगा | 

मैंने आपको नीचे TOP 7 VPN सर्विस के बारे में बताया है आप चाहे तो उनके VPN BUY कर सकते है | 

Top 7 VPN in 2021

  1. ExpressVPN
  2. CyberGhost 
  3. NordVpn
  4. SurfShark 
  5. Ipvanish
  6. ProtonVPN 
  7. Private Internet Access

तो ये कुछ सात वीपीएन (VPN) है जिसे आप चाहे तो अपनी आवश्यकता अनुसार उपयोग कर सकते है |

निष्कर्ष

दोस्तों आशा करता हु कि आज के इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको VPN क्या है? (What is VPN in Hindi)  VPN उपयोग करने के क्या फायदे है और क्या नुकशान है? ( Advantages and Disadvantages of VPN in Hindi ) से संबंधित सभी जानकारी मिल गई होगी और आपको और कही इसके बारे में सर्च करना नहीं पड़ेगा |

दोस्तों आशा करता हु कि आपको ये पोस्ट पसंद आई होगी और आपको VPN Kya Hai ? के बारे में काफी जानकरी हुई होगी |

अगर आपको अभी भी वीपीएन क्या है? (What is VPN in Hindi) से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप जरूर बताये मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

एसी ही नया टेक्नोलॉजी , Computer science से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब कर दीजिए | जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं जल्दी प्राप्त होगी |

Thank you आपका दिन मंगलमय हो |

पढ़ते रहिए और बढ़ते रहिए | Keep Reading and Keep Growing

Jeetu Sahu is A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging