Constants and literals In C Language जानिए हिंदी में

हेलो फ्रेंड्स…. सी लैंग्वेज सिखने की इस सीरीज में आपका स्वागत है आज हम इस पोस्ट में Constants and literals के बारे में बात करेंगे कि सी लैंग्वेज में Constants क्या है (What is Constants in C in Hindi) और literals क्या है (What is literals in C In Hindi) तथा सी लैंग्वेज में इनका क्या उपयोग है

सबसे पहले हम Constants के बारे में जानेंगे फिर लिटेरल्स के बारे में क्योकि बिना Constants के जाने आप literals को अच्छे से समझ नहीं पाएंगे तो आइये जानते है कि Constants क्या है? (What is Constants in Hindi)

Constants and literals In C Language in Hindi
Constants and literals In C Language

Constants क्या है (What is Constants in Hindi)

आप सभी ने मैथ्स में Constant और Variable के बारे में तो पढ़ा ही होगा | जिस तरह मैथ्स में Constant का अर्थ स्थिर होता है, मतलब जिसको हम चेंज नहीं कर सकते और वेरिएबल का मतबल परिवर्तनशील होता है, मतलब जिसकी वैल्यू को हम चेंज कर सकते है | ठीक उसी तरह C Language में भी हम ऐसे ही दो तरह के Variable पढ़ते है एक नार्मल वेरिएबल और एक Constant वेरिएबल | 

नार्मल वेरिएबल ऐसे वेरिएबल होते है जिसकी वैल्यू को हम प्रोग्राम के execution के दौरान कई बार चेंज कर सकते है और कांस्टेंट वेरिएबल ऐसे वेरिएबल होते है जिसको प्रोग्राम में एक बार डिक्लेअर करने के बाद पुरे प्रोग्राम के execution के दौरान उसकी वैल्यू में कोई भी changes नहीं कर सकते |

आसान शब्दों में कहूं तो Constants एक ऐसा वैल्यू या वेरिएबल होता है जो एक बार डिक्लेअर होने के बाद पुरे प्रोग्राम के execution तक कोई भी changes नहीं होता | Constants फिक्स्ड वैल्यू होती है |

Constants भी एक नार्मल वेरिएबल ही तरह ही होता है मगर इसमें बस थोड़ा सा डिफरेंट ये होता है कि कांस्टेंट वेरिएबल में एक बार जो वैल्यू declare कर दिया जाता है फिर उसके बाद पुरे प्रोग्राम के रन करने तक उसमे कोई भी बदलाव नहीं किये जा सकते | कांस्टेंट वेरिएबल की वैल्यू Fixed होती है |

आइये देखते है की हम सी लैंग्वेज में Constants का उपयोग कैसे कर सकते है |

सी लैंग्वेज में Constants का उपयोग कैसे करें? (How To Use Constants In C Language)

सी लैंग्वेज में हम Constants का उपयोग दो तरह से कर सकते है -:

  1. By Const Keyword
  2. By #define Preprocessor Directive

1. By Const Keyword

Const एक Keyword है जिसका उपयोग कर, हम Constants टाइप के वेरिएबल को डिक्लेअर करते है और ऐसे वेरिएबल की वैल्यू एक बार डिक्लेअर करने के बाद पुरे प्रोग्राम के execution के दौरान चेंज नहीं कर सकते |

Syntax -:

const data_type variable_name;

Example -:

 const float PI = 3.14;    

Const कीवर्ड का उपयोग हम किसी भी Data Types के साथ कर सकते है और जब हम Const कीवर्ड का उपयोग करते हुए कोई वेरिएबल बनाते है तो उस वेरिएबल के डिक्लेरेशन के टाइम जो वैल्यू असाइन कर दिया जाता है वही वैल्यू पुरे प्रोग्राम के रन होने तक रहता है उसे कभी भी चेंज नहीं किया जा सकता |

अगर ऐसे वेरिएबल की वैल्यू को बाद में चेंज करने का प्रयास करते है तो Compiler एरर देता है | आइये इन बातो को मैं आपको इस एक Example से समझता हु जिससे आपको ये बातें क्लियर हो जाये |

Example 1 -: इस Example में हम Constant वेरिएबल की वैल्यू में कोई चेंज नहीं करेंगे और देखेंगे की आउटपुट क्या आता है |

#include<stdio.h>    
int main()
{  
 const float PI = 3.14;    
 printf("The value of PI is : %f",PI);    
 return 0;  
}

Output -:

The value of PI is : 3.14

Example 2 -: इस Example 2 में हम Constant वेरिएबल की वैल्यू में चेंज करेंगे और देखेंगे की आउटपुट क्या आता है |

#include<stdio.h>    
int main()
{ 
const float PI=3.14;     
PI=40.5;    
printf("The value of PI is: %f",PI);    
return 0;  
} 

Output -:

Compile Time Error: assignment of read-only variable ‘PI’

ऊपर हमने दो Example देखे, पहले Example में हमने कांस्टेंट वेरिएबल की वैल्यू में कोई चेंज नहीं किया जिससे आउटपुट सही आया और Example 2 में हमने कांस्टेंट वेरिएबल की वैल्यू को चेंज करने का प्रयास किया जिसका रिजल्ट ये हुवा की हमारा प्रोग्राम रन नहीं हुवा और error में “assignment of read-only variable ‘PI’ ” करके आया | जिसका मतलब ये था कि हम कांस्टेंट वेरिएबल की वैल्यू को एक बार डिक्लेअर करने के बाद चेंज नहीं कर सकते | 

आइये अब हम Constants उपयोग करने के दूसरे तरीके को देखते है |

2. By #define Preprocessor Directive

सी लैंग्वेज में हम Constants को #define के द्वारा भी डिक्लेअर कर सकते है #define के बारे में हम Preprocessor Directive वाले सेक्शन में पढ़ेंगे | अभी के लिए हम इसका बस एक example देखते है |

Example -:

#include<stdio.h>    
#define PI 3.14    // Declaration of Constant 
int main()
{    
 int r;
 float s;
 printf("Enter the radius of circle : ");
 scanf("%d",&r);
 s=r*r*PI;
 printf("The radius of circle is: %f",s);    
 return 0;  
}     

Output -:

Enter the radius of the circle : 5
The radius of the circle is: 78.500000

सी लैंग्वेज में Constants 6 प्रकार के होते है -:

Constants के प्रकार (Types of Constants in C)

  1. Integer constants
  2. Real or Floating-point constants
  3. Octal & Hexadecimal constants
  4. Character constants
  5. String constants
  6. Backslash character constants
Constant typedata type (Example)
Integer constantsint (43, 862, -678 etc )
unsigned int (5000u, 1000U etc)
long int, long long int (433,247 2,197,483,688)
Real or Floating point constantsfloat (15.456789)doule (650.123456789)
Octal constantint (Example: 013 /*starts with 0 */)
Hexadecimal constantint (Example: 0x90 /*starts with 0x*/)
Character constantschar (Example: ‘X’, ‘Y’, ‘Z’)
String constantschar (Example: “MasterProgramming”, “Hai”)
Constants in C in Hindi

यहाँ तक हमने देखा कि सी लैंग्वेज में Constants क्या है (What is Constants in C In Hindi),कितने प्रकार के होते है (Types of Constants) और सी लैंग्वेज में कांस्टेंट का उपयोग कैसे कर सकते है |

आइये अब हम देखते है कि सी लैंग्वेज में literals क्या है (What is literals in C in Hindi) तथा सी लैंग्वेज में इनका क्या उपयोग है | 

Literals क्या है (What is literals in Hindi)

सी लैंग्वेज में जब हम कोई प्रोग्राम बनाते है और उसमे const कीवर्ड का उपयोग करके कोई वेरिएबल डिक्लेअर करते है तो ऐसे वेरिएबल को हम Constant वेरिएबल कहते है और ऐसे कांस्टेंट वेरिएबल में जो वैल्यू असाइन किया जाता है उसे ही हम Literals है For Example -: const int x = 25; इसमें वैरिएबल x एक इन्टिजर टाइप का Constant है और वैल्यू 25 इन्टिजर टाइप का Literals है | 

Types of Literals

सी लैंग्वेज में Literals 4 प्रकार के होते है -:

  1. Integer literal
  2. Float literal
  3. Character literal
  4. String literal

List of Constants Literals in C With Example

Constant Literals in CExamples
Integer literalDecimal: 0, -9, 22 etc.
Octal: 021, 077, 033 etc.
Hexadecimal: 0x7f, 0x2a, 0x521 etc.
Floating-point Literals-2.0, 0.0000234, -0.22E-5, 2.45
Character literal‘x’, ‘y’, ‘z’, ‘a’, ‘b’, ‘c’
String literal“Welcome”, “to”, “Masterprogramming”,
Constants Literals in C In Hindi

Conclusion -:

दोस्तों आशा करता हु कि आपको सी लैंग्वेज में Constants क्या है (What is Constants in C in Hindi) और literals क्या है (What is literals in C In Hindi) तथा सी लैंग्वेज में इनका क्या उपयोग है से संबंधित सभी जानकारी आपको हमारी इस पोस्ट में मिल गई होगी और आपको और कही इसके बारे में सर्च करना नहीं पड़ेगा |

दोस्तों मैंने कोशिश की है की आपको सी लैंग्वेज में Constants क्या है (What is Constants in C in Hindi) और literals क्या है (What is literals in C In Hindi) तथा सी लैंग्वेज में इनका क्या उपयोग है के बारे में पूरी जानकारी अच्छे से दूँ आशा करता हूँ की आपको आपके सवाल का जवाब मिल गया होगा

दोस्तों आशा करता हु की आपको हमारी ये पोस्ट पसंद आयी होगी अगर आपको ये पोस्ट पसंद आयी है तो आप इस पोस्ट को अपने अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी ये जानकारी प्राप्त हो सके |

अगर आपको अभी भी constants and literals से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप जरूर बताये मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

एसी ही Programming Language , Coding , C Language, C++, Python Course , Java Tutorial से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट masterprogramming.in को सब्सक्राइब कर दीजिए | जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं जल्दी प्राप्त होगी |

Thank you आपका दिन मंगलमय हो |

पढ़ते रहिए और बढ़ते रहिए | Keep Reading and Keep Growing

Hey there, welcome to Master Programming. I am Jeetu Sahu , A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging

Leave a Comment