Arithmetic Operators In C Language जानिए हिंदी में !

आज हम इस पोस्ट में Arithmetic Operators के बारे में डिटेल्ड में जानेंगे कि अरिथमेटिक ऑपरेटर क्या है (What is Arithmetic Operators In C In Hindi) और सी लैंग्वेज में अरिथमेटिक ऑपरेटर का उपयोग कैसे किया जाता है |

पिछले आर्टिकल में हमने पढ़ा था Operators In C Language के बारे में और और जाना था कि Operators किसी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में कितना महत्त्वपूर्ण है | अगर आपने वो आर्टिकल नहीं पढ़ा तो उसे एक बार जरूर पढ़ ले जिससे आपको ऑपरेटर का बेसिक ज्ञान हो जाये |

तो आइये अब हम जानते है, कि सी लैंग्वेज में Arithmetic Operators क्या है (What is Arithmetic Operators In C In Hindi)

सी लैंग्वेज में अरिथमेटिक ऑपरेटर क्या है (What is Arithmetic Operators In C In Hindi)

सी लैंग्वेज में अरिथमेटिक ऑपरेटर का उपयोग Arithmetic/Mathematical ऑपरेशन करने के लिए किया जाता है जैसे कि Addition, Subtraction, Multiplication, Division आदि |

Arithmetic Operators दो प्रकार के होते है -:

  1. Unary Operators
  2. Binary Operators

1. Unary Operators In C

ऐसे ऑपरेटर जिनको ऑपरेशन परफॉर्म करने के लिए केवल एक ही Operands की जरुरत होती है Unary Operators कहलाते है | इसके उदाहरण है -: ‘+ +’,  ‘ – – ‘  , यहाँ “+ +” ऑपरेटर को हम Increment Operator कहते है और “– – ”  ऑपरेटर को हम Decrement Operator कहते है | 

#1) Increment Operator In C

Increment Operator ऐसे ऑपरेटर होते है जो किसी वेरिएबल के साथ उपयोग करने पर उस वेरिएबल की वैल्यू को एक बढ़ा देते है |

जैसे -: मान लीजिये हमने int डाटा टाइप द्वारा कोई वेरिएबल x बनाया है और उसमे 5 वैल्यू स्टोर की है | अब अगर हम वेरिएबल x में Increment Operator का उपयोग करते है तो x वेरिएबल की वैल्यू 5 से बढ़कर 6 हो जाएगी |

आइये इसे हम एक प्रोग्राम बना के समझते है | 

#include <stdio.h>
int main()
{
    int x=5;
    printf(" Before using increment operator the value of x is : %d ", x);
    ++x;
    printf("\n After using increment operator the value of x is : %d", x);
    return 0;
}

Output -:

Before using increment operator the value of x is : 5
After using increment operator the value of x is : 6

Increment Operator को हम दो तरह से उपयोग कर सकते है एक Variable नाम से पहले और और दूसरा Variable नाम के बाद | 

जब हम इन्क्रीमेंट ऑपरेटर का उपयोग वेरिएबल नाम से पहले करते है तब इसे pre increment कहते है और जब इसका उपयोग वेरिएबल नाम के बाद करते है तब इसे Post increment कहते है | 

वैसे दोनों ही तरह से इन्क्रीमेंट ऑपरेटर का उपयोग करने पर वेरिएबल की वैल्यू एक बढ़ता ही है पर जब हम pre increment और Post increment operator का उपयोग ऐसे समय में करते है जहा पर एक से ज्यादा ऑपरेटर का उपयोग हो रहा होता है तो वहाँ पर दोनों तरह के इन्क्रीमेंट ऑपरेटर का रिजल्ट अलग अलग आ सकता है | 

आइये इसे हम एक उदाहरण से समझते है | 

सबसे पहले हम pre increment operator का उपयोग करके एक program बनाएंगे फिर Post increment operator का उपयोग करते हुए दूसरा एक प्रोग्राम बनाएंगे और आखिर में हम इन दोनों के रिजल्ट/output की तुलना करेंगे | 

Example 1 – Using Pre Increment Operator

#include <stdio.h>
int main()
{
    int x = 5;
    int y;

    y = ++x;    //pre increment operator  
    printf("\n Pre Increment Operator Result -:  Value is: x = %d, y = %d ",x,y);
    return 0;
}

Output -:

 Pre Increment Operator Result -:  Value is: x = 6, y = 6

Example 2 – Using Post Increment Operator

#include <stdio.h>
int main()
{
    int x = 5;
    int y;
    
    y = x++ ;// post increment operator
    
    printf("\n Post Increment Operator Result -: Value is: x = %d, y = %d ",x,y);
    return 0;
}

Output -:

Post Increment Operator Result -:  Value is: x = 6, y = 5

Example नंबर 1 मे हमने Pre Increment Operator का उपयोग किया है जिसके रिजल्ट में x = 6 और y = 6  आया और Example नंबर 2 में हमने Post Increment Operator का उपयोग किया है जिसका रिजल्ट में x = 6 और y = 5 आया | सोचिए जरा, दोनों में ही हमने एक जैसे की प्रोग्राम बनाये है पर रिजल्ट अलग अलग क्यों आया ? 

दरअसल Example १ में y = ++x;  जब हमने किया और Pre Increment Operator का उपयोग किया तब पहले वेरिएबल x में इन्क्रीमेंट हुवा और उसके बाद y में वो वैल्यू असाइन हुवा और  Example २ में y = x++ ; जब हमने किया और Post Increment Operator का उपयोग किया तब पहले वेरिएबल y में, x की वैल्यू असाइन हुवा उसके बाद x की वैल्यू में इन्क्रीमेंट हुवा और जिसके कारण रिजल्ट में x = 6 और y = 5 आया | 

तो यहाँ एक बाद ध्यान देने की ये है कि जब एक ही समय में एक से ज्यादा ऑपरेटर यूज़ हो रहे होते है वहां Operator Precedence रूल फॉलो होता है और इन Examples में भी Operator Precedence रूल्स फॉलो हुवा जिसके चलते दोनों के रिजल्ट में अंतर आया | 

Pre Increment Operator की प्राथमिकता असाइनमेंट ऑपरेटर से ज्यादा होती है और Post Increment Operator की प्राथमिकता असाइनमेंट ऑपरेटर से काम होता है | 

Operator Precedence के बारे में हम अपने किसी दूसरे पोस्ट में डिटेल्ड से पढ़ेंगे | अभी हम डेक्रेमेंट ऑपरेटर के बारे में जानते है कि डेक्रेमेंट ऑपरेटर क्या है और सी लैंग्वेज में इसका उपयोग कैसे किया जाता है 

#2) Decrement Operator In C

Decrement Operator ऐसे ऑपरेटर होते है जो किसी वेरिएबल के साथ उपयोग करने पर उस वेरिएबल की वैल्यू को एक घटा देते है |  Decrement Operator को भी हम इन्क्रीमेंट ऑपरेटर की तरह दो तरह से उपयोग कर सकते है एक वेरिएबल नाम से पहले और और दूसरा वेरिएबल नाम के बाद | 

जब हम Decrement Operator का उपयोग वेरिएबल नाम से पहले करते है तब इसे pre Decrement Operator कहते है और जब इसका उपयोग वेरिएबल नाम के बाद करते है तब इसे Post  Decrement Operator कहते है | 

Example Program -: Pre Decrement Operator In C Language

#include <stdio.h>

int main()
{
    int x = 5;
    int y;
    
     y = --x ; // pre  Decrement Operator 
     printf("\n Pre Decrement Operator Result -: Value is: x = %d, y = %d ",x,y);
     
    return 0;
}

Output -:

Pre Decrement Operator Result -: Value is: x = 4, y = 4

Example Program -: Post Decrement Operator Example

#include <stdio.h>

int main()
{
    int x = 5;
    int y;
    
    y = x-- ;// post  Decrement Operator 
    printf("\n Post  Decrement Operator Result -: Value is: x = %d, y = %d ",x,y);
     
    return 0;
}

Output -:

Post  Decrement Operator Result -: Value is: x = 4, y = 5

Binary Operators In C

ऐसे ऑपरेटर जिनको ऑपरेशन परफॉर्म करने के लिए दो ओपेरंडस की जरुरत होती है Binary Operators कहलाते है |

इसके उदाहरण है -: (+, -, *, /, %) |  “+ ” को हम Addition Operator कहते है, “– ”  को हम Subtraction Operator कहते है |  ” * ”  को हम Multiplication Operator कहते है | ” / ”  को हम Division Operator कहते है | ” % ”  को हम Modulus Operator या Modulo operator कहते है |

आइए अब हम इन सभी ऑपरेटर्स के बारे में एक एक करके जानते है -:

Addition Operator (+) -: यह दो ओपेरंडस को जोड़ने का काम करता है Example -: a+b

Subtraction Operator ( – ) -: यह दो ओपेरंडस को घटाने का काम करता है Example -: a-b

Multiplication Operator (*) -: यह दो ओपेरंडस को multiplies करने का काम करता है Example -: a*b

Division Operator (/) -: यह पहले ऑपरेंड से दूसरे ओपेरंडस को डेविड करने का काम करता है Example -: a/b

Modulus Operator (%) -: यह remainder रिटर्न करता है जब पहले द्वारा दूसरे ओपेरंडस को डेविड किया जाता है Example -: a%b

Example

#include <stdio.h>

int main()
{
    int a,b,c;
    
    printf("Enter two number\n");
    scanf("%d%d",&a,&b);
    
    c = a+b;
    printf("Addition of a+b is : %d",c);
    
    c = a-b;
    printf("\nSubtraction of a-b is : %d",c);

    c = a*b;
    printf("\nMultiplication of a*b is : %d",c);

    c = a/b;
    printf("\nDivision of a/b is : %d",c);

    c = a%b;
    printf("\nRemainder of is : %d",c);

    return 0;
}

Output -:

Enter two number
10
5
Addition of a+b is : 15
Subtraction of a-b is : 5
Multiplication of a*b is : 50
Division of a/b is : 2
Remainder of is : 0

Conclusion

दोस्तों आशा करता हु कि आज के इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको सी लैंग्वेज में अरिथमेटिक ऑपरेटर क्या है (What is Arithmetic Operators In C In Hindi) और Unary Operators In C तथा Binary Operators In C से संबंधित सभी जानकारी मिल गई होगी |

दोस्तों आशा करता हु कि आपको ये पोस्ट पसंद आई होगी और आपको Arithmetic Operators In C In Hindi के बारे में काफी जानकरी हुई होगी |

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आया है तो इस पोस्ट को अपने अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी ये जानकारी प्राप्त हो सके |

अगर आप सी लैंग्वेज का Complete Tutorial चाहते है तो मेरे इस पोस्ट C Language Tutorial In Hindi को देखे यहाँ आपको C Programming Language के सभी टॉपिक्स step by step मिल जाएगी |

अगर आपको अभी भी Arithmetic Operators In C Language से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप जरूर बताये मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

एसी ही नया टेक्नोलॉजी ,Programming Language, Coding , C Language, C++, Python Course , Java Tutorial से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब कर दीजिए | जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं जल्दी प्राप्त होगी |

Thank you आपका दिन मंगलमय हो |

पढ़ते रहिए और बढ़ते रहिए | Keep Reading and Keep Growing

Jeetu Sahu is A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging

Leave a Comment