|

ASCII Code क्या है? (What is ASCII Code In Hindi)

इंसानी सभ्यता का सबसे बड़ा अविष्कार कंप्यूटर है, कंप्यूटर बड़े बड़े कार्यों को करने में निपुण है, कंप्यूटर ना जाने कितनी भाषाओं की जानकारी रखता है, लेकिन क्या आप जानते है कि कंप्यूटर किसी इंसानी भाषा को directly नही समझ सकता, 

कंप्यूटर केवल मशीन लैंग्वेज या बाइनरी लैंग्वेज (0 और 1) कोड को ही समझ सकता है, इसलिए कंप्यूटर को अपनी बात समझाने के लिए इंसानी भाषा के characters को 0 और 1 कोड में बदला जाता है, 

इन इंसानी भाषा के characters को कंप्यूटर के समझने योग्य रूप में बदलने के लिए ही ASCII Code का इस्तेमाल किया जाता है। 

ASCII Code एक ऐसा कोड है, जिसमें इंग्लिश भाषा के alphabets, numbers और कुछ सिम्बल्स के लिए पहले से ही 0, 1 के फॉर्म में कोड तय कर दिए गए है, यह तय codes हमें कंप्यूटर को अपनी बात समझाने में मदद करते है।

तो दोस्तों यह ASCII Code की एक बहुत ही साधारण सी परिभाषा थी, लेकिन यदि आप ASCII Code क्या है? (What is ASCII Code In Hindi) ASCII Code कितने प्रकार के होते है? और इसके क्या फायदे व क्या नुकसान है आदि के बारे में विस्तार से जानना चाहते है,

तो आप इस आर्टिकल को आगे पढ़ते रहें क्योंकि आज हम इस आर्टिकल में आपके ASCII Code से संबंधित सभी सवालों का जवाब देने वाले है।

तो आइये अब बिना समय गवाए सबसे पहले जानते है कि ASCII Code Kya Hai?

ASCII code क्या है? (What is ASCII Code In Hindi)

ASCII code क्या है? (What is ASCII Code In Hindi)

ASCII कोड का Full form होता है American Standard Code for Information Interchange, यह एक ऐसा कोड होता है जो की characters को नंबर्स में represent करता है,इस कोड में हर एक character के लिए एक अलग कोड तय किया जाता है, 

यह एक ऐसा कोड है जिसकी मदद से एक कंप्युटर से दूसरे कंप्युटर में information को transfer करना possible हो पता है।

यह कोड अलग अलग characters को अलग अलग binary codes में यानि 0, 1 के रूप में बदल देता है,

इस कोड के अंदर lowercase alphabets (a,b,c), uppercase alphabets (A,B,C) और 0 – 9 नंबर्स के लिए ASCII Code तय होते है। इनके अलावा कुछ स्पेशल सिंबल्स ओर भी होते है, जिनके लिए भी ASCII कोड होते है।

ASCII Code कितने प्रकार के होते है? (Types of ASCII Code In Hindi)

ASCII Code 2 प्रकार के होते है -:

  • ASCII 7
  • ASCII 8

ASCII 7

यह कोड 7 bit का होता है यानी यह कोड किसी भी character को रिप्रेजेंट करने के लिए 7 bits का प्रयोग करता है, इस कोड को Standard ASCII code भी कहा जाता है।

ASCII-7 , 128 कैरेक्टर्स को कोड में रिप्रेजेंट कर सकता है, जिन characters को ASCII कोड रिप्रेजेंट कर सकता है, इन characters को 2 भागो में बांटा जा सकता है  -:

  • Printable Characters
  • Non Printable Characters

1) Printable Characters -: Printable Characters वह कैरेक्टर्स होते है, जो की हमें स्क्रीन पर प्रिंट होते हुए दिखते है। letters, punctuation इत्यादि जैसे कैरेक्टर्स को printable characters कहा जाता है।

2) Non Printable Characters -: Non Printable Characters वह characters होते है, जो की हमें स्क्रीन पर प्रिंट होते हुए नही दिखते है, जैसे की space, backspace, delete, tab इत्यादि।

यह ऐसे characters होते है, जिन्हे कोड में तो लिखा जाता है, लेकिन वह हमें स्क्रीन पर प्रिंट होते हुए नही दिखते।

ASCII 8

यह कोड 8 bit का होता है, इस कोड को Extended ASCII कोड भी कहा जाता है, इस कोड को ASCII 7 में सुधार करके बनाया गया था, इसलिए ASCII 8 कोड ASCII 7 की तुलना में 128 characters अधिक रिप्रेजेंट कर सकता है, यानी ASCII 8 कुल 256 कैरेक्टर्स को रिप्रेजेंट कर सकता है।

ASCII Code कैसे पता करे?

ASCII कोड को पता करने के लिए कुछ प्रोसेस को फॉलो करना होता है, जिसकी मदद से हम किसी character का ASCII कोड पता कर सकते है,

ASCII-7 और ASCII-8 में दोनों में ही किसी character का ASCII कोड पता करने का तरीका अलग होता है, चलिए हम बारी बारी से जान लेते है कि इन दोनों ASCII Variants में character का ASCII कोड कैसे पता करते है -:

ASCII-7 code कैसे पता करें?

ASCII-7 में किसी नंबर या letter का ASCII कोड पता करने के लिए हमें दो चीजों की जरूरत होती है -:

1) Zone -: ASCII-7 में कुल 7 bits होते है, उन 7 bits में जो पहली 3 bits होती है, वह बिट Zone bits कहलाती है।

2) Code -: ASCII-7 में आखिर की चार bits को digit bits कहा जाता है, इन digit bits में हमें हमारे character का 4-digit code लिखना होता है, यह code भी एक तरह का representation कोड होता है, जिसमें characters को 0 और 1 के रूप में रेप्रिज़ेन्ट किया जा सकता है।

ASCII-7 में जब हम किसी नंबर का ASCII कोड निकाल रहे होते है तो उस समय Zone हमेशा 011 रहता है, तो ASCII-7 में numbers का ASCII कोड हमेशा 011 से शुरू होता है और उसके बाद पीछे उस नंबर का 4 डिजिट का बाइनरी कोड लिखा जाता है,

ASCII-7 में 0 से 9 numbers तक का ASCII कोड कुछ इस प्रकार का होगा -:

NumbersZoneCodeASCII-7
001100000110000
101100010110001
201100100110010
301100110110011
401101000110100
501101010110101
601101100110110
701101110110111
801110000111000
901110010111001

तो यह था ASCII-7 कोड numbers के लिए, अब हम देखते है कि alphabets के लिए हम ASCII-7 कोड कैसे लिख सकते है,

Alphabets के ASCII-7 code को लिखने के लिए जो zone (पहले 3 digits) हमें लिखना होता है, वह होता है 100 (A से O तक)।

बाकी काम इसमें numbers जैसा ही होता है, इसमें भी हमें zone के आगे character का बाइनरी कोड लिखना होता है,

NOTE -: ASCII-7 codes में A से O Alphabet तक ज़ोन 100 रहता है, लेकिन P से ज़ोन 100 की जगह 101 हो जाता है।

Alphabets का binary कोड कुछ इस प्रकार का होगा -:

AlphabetsZoneCodeASCII-7
A10000011000001
B10000101000010
C10000111000011
D10001001000100
And So On; But AFTER P Zone Code Will Change
P10100001010000
Q10100011010001
R10100101010010
S10100111010011
T10101001010100

ऐसे ही आप आगे के alphabets का ASCII-7 कोड निकाल सकते हो, ऐसे ही आप lowercase alphabets का ASCII-7 कोड निकाल सकते हो,

Lowercase के लिए आपको zone p तक 110 होगा और p के बाद zone 111 होगा।

इसमें भी हमें आखिर के 4 digits में alphabets का बाइनरी कोड लिखना होगा, जो की uppercase alphabets जैसा ही होगा।

आप नीचे के टेबल से lowercase alphabets का ASCII-7 कोड को और बेहतर समझ पाओगे -:

AlphabetsZoneCodeASCII-7
a11000011100001
b11000101100010
c11000111100011
Same To THE p After p, Zone Will be 0111
p11100001110000
q11100011110001
r11100101110010

यह एक तरीका है, जिसकी मदद से आप इन characters का ASCII-7 code निकाल सकते हो, इसके अलावा एक तरीका और है, जिसकी मदद से आप ascii code निकाल सकते है। तो आइये जानते है उस तरीके के बारे में। 

Method 2 

ASCII-7 में जो 128 characters होते है, उन सभी characters को 0 से 127 तक में से एक नंबर दिया गया है, जैसे की 0 का नंबर है 48, ऐसे ही हर एक character को एक नंबर दिया गया है,

आप इस नंबर का बाइनरी कोड जान कर भी character के ASCII कोड का पता लगा सकते हो, जैसे की 0 का नंबर है 48 और 48 का बाइनरी कोड होता है 0110000,

तो 0 का ASCII कोड होगा 0110000, आप ऊपर वाले टेबल में भी देख सकते है कि 0 का ASCII कोड 0110000 है, ऐसे ही आप हर एक character के निर्धारित नंबर की मदद से उस character के ASCII कोड का पता लगा सकते हो,

हम नीचे आपके साथ एक लिस्ट शेयर कर देंगे, जिससे आप यह जान पाओगे कि किस character का क्या नंबर है। अभी हम अब ASCII-8 code कैसे पता करे ये जान लेते है .

ASCII-8 code कैसे पता करें?

ASCII-8 एक 8 bit कोड होता है, तो इसमें पहले 4 bits को zone बोला जाता है और बाकी की 4 bits को digit bits कहा जाता है।

ASCII-8 , ASCII-7 में ही सुधार करके बनाया गया था तो इसमें हमें 128 characters (127 से 255) ओर अधिक देखने को मिलते है,

ASCII-8 में numbers का ASCII code पता करने के लिए हम zone को 0011 लिखते है और उसके बाद डिजिट bit में हम नंबर का बाइनरी कोड लिख देते है -:

NumbersZoneCodeASCII-8
00011000000110000
10011000100110001
20011001000110010
30011001100110011
40011010000110100
50011010100110101
60011011000110110
70011011100110111
80011100000111000
90011100100111001

यह था numbers का ASCII-8 कोड, यदि आप alphabets का ASCII-8 कोड निकालना चाहते है तो इसके लिए हम A से O तक zone को 0100 लिखते है और फिर P से हम इसके zone को 0101 लिखते है -:

AlphabetsZoneCodeASCII-8
A0100000101000001
B0100001001000010
C0100001101000011
D0100010001000100
And So On; But AFTER P Zone Code Will Change
P0101000001010000
Q0101000101010001
R0101001001010010
S0101001101010011
T0101010001010100

यदि आप lowercase alphabets का ASCII code निकालना चाहते है तो a से o तक Zone होगा 0110 और उससे आगे zone होगा 0111

AlphabetsZoneCodeASCII-8
a0110000101100001
b0110001001100010
c0110001101100100
Same To THE p After p, Zone Will be 0111
p0111000001110000
q0111000101110001
r0111001001110010

ऐसे आप characters का ASCII-8 code निकाल सकते है, इसमें भी दूसरा तरीका इस्तेमाल किया जा सकता है, जिसमें हम characters को पहले से तय नंबर का बाइनरी कोड निकाल कर character का ASCII कोड निकाल सकते है,

किस character का क्या नंबर है, यह आप निचे दिए गए ASCII Table को देख कर जान सकते है।

ASCII Numbers A to Z

नीचे दी गई इमेज में आपको हर एक character का ASCII नंबर पता चल जाएगा. दर्शाए गई इमेज में ASCII नंबर को HEX नाम से दर्शाया गया है -:

ASCII-Table

ASCII Code के फायदे (Advantages of ASCII Code In Hindi)

चलिए अब हम ये देख लेते है कि आखिर ASCII code क्या क्या फायदे है जो इसे इतना महत्वपूर्ण बनाता है। 

  • ASCII कोड 7 में 128 characters होते है, वहीं ASCII 8 code में 256 characters होते है, कम characters होने की वजह से ASCII कोड बहुत कम मेमोरी प्रयोग करता है।
  • यह lowercase और uppercase दोनो तरह की alphabets को स्टोर कर सकता है।
  • ASCII कोड Roman Alphabets को भी बहुत कम मेमोरी में स्टोर के सकता है।

चलिए अब हम ASCII Code के कुछ नुकसानों के बारे में भी जान लेते है   

ASCII Code के नुकसान (Disadvantages of ASCII Code In Hindi)

ASCII Code के नुकसान निम्नलिखित है

  • ASCII कोड 8 bit में 256 characters होते है जो की कईं बार किसी जानकारी को भेजते हुए काफी नही होते।
  • ASCII कोड केवल इंग्लिश भाषा के characters को स्टोर कर सकता है।
  • ASCII कोड में American Currency को छोड़ कर बाकी किसी भी currency को दर्शाने के लिए सिंबल्स नही होते।

FAQ – Frequently Asked Questions

Q1. ASCII Code का फुल फॉर्म क्या है? (Full Form of ASCII Code In Hindi)

ASCII Code का फुल फॉर्म American Standard Code for Information Interchange है

Q2. ASCII कोड किसके द्वारा बनाया गया है?

ASCII कोड को American National Standards Institute (ANSI) द्वारा विकसित किया गया था

Conclusion 

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमनें ASCII Code के बारे में बात की और जाना कि ASCII Code क्या है? (What is ASCII Code In Hindi) ASCII Code कितने प्रकार के होते है? (Types of ASCII Code In Hindi) और इनकी विशषताएँ क्या है? (Features of Hybrid Computer In Hindi)

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आया है तो इस पोस्ट को अपने अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी ASCII Code Kya Hai के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके .

अगर आपको अभी भी ASCII Code In Hindi से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप कमेंट्स के जरिए हमसे पुछ सकते है। मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

ऐसे ही नया टेक्नोलॉजी ,Computer Science, computer fundamentals से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब कर दीजिए | जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं जल्दी प्राप्त होगी |

Leave a Reply

Your email address will not be published.