|

BIOS क्या है? – What is BIOS In Hindi (पूरी जानकारी)

BIOS Kya Hai -: BIOS किसी भी कंप्यूटर के अंतर्गत एक महत्वपूर्ण डिवाइस होता है, जिसका इस्तेमाल लगभग हर कंप्यूटर के अंतर्गत किया जाता है। 

कंप्यूटर के स्टार्ट करते ही आपके सामने जो स्क्रीन दिखाई देती है वह BIOS के कारण ही संभव हो पता है। इसका कार्य किसी भी कंप्यूटर को स्टार्ट करना होता है। 

BIOS का सबसे मुख्य काम कंप्यूटर की settings की सही से जाँच करना होता है, जिसकी मदद से BIOS कंप्यूटर सही से काम कर रहा है या नही इसके बारे में पता लगा पाता है। 

BIOS का काम हमारे कंप्यूटर के start होते ही start हो जाता है, इसका काम कंप्यूटर की communication को बरक़रार रखना ही है जिससे की सभी components मिलकर आसानी से काम कर सके। 

तो दोस्तों यह थी BIOS की एक बेसिक सी जानकारी, यदि आप इसके बारे में Detail में जानना चाहते है तो आप इस आर्टिकल को आगे पढ़ते रहे क्योकि आज के इस आर्टिकल में हम विस्तार से जानेंगे कि BIOS Kya Hai? बायोस कितने प्रकार के होते है? इसके क्या क्या कार्य होते हैं और यह किस तरह से कार्य करता है। 

तो आइये अब बिना समय गवाए विस्तार से जानते है किBIOS क्या है? (What is BIOS In Hindi)

BIOS क्या है? - What is BIOS In Hindi

बायोस क्या है? (What is BIOS In Computer In Hindi)

BIOS एक ऐसा प्रोग्राम है जो हमारे कंप्यूटर के start होते ही अपना काम शुरू कर देता है। BIOS का पूरा नाम Basic Input Output System है । bios की मदद से ही कंप्यूटर के सभी components काम करते है यदि हम इसको आसन भाषा में समझे तो BIOS की मदद से हमारा system किसी भी इनपुट और output system जैसे monitor, keyboard, processor व RAM आदि को समझ सकता है।

BIOS किसी भी कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। जिसका कार्य किसी भी कंप्यूटर को स्टार्ट करना होता है।

जब भी आप किसी कंप्यूटर या लैपटॉप को स्टार्ट करते हैं तो आपके सामने जो स्क्रीन आती है, वह BIOS के कारण ही संभव हो पाता है। 

यह कंप्यूटर के मदरबोर्ड के साथ जुड़ा हुआ होता है, तथा जब भी आप कंप्यूटर को स्टार्ट करते हैं, तो यह वर्क करना शुरू कर देता है। 

किसी भी कंप्यूटर को ऑन करने पर BIOS कंप्यूटर की रैम पर आकर कार्य करना लग जाता है, तथा कंप्यूटर के अंतर्गत RAM, keyboard, hard, disc, processor आदि को पहचान करके उन्हें Configure करता है। 

BIOS किसी भी कंप्यूटर की रोम मेमोरी के अंतर्गत स्थित होता है, तथा उस कंप्यूटर के अंतर्गत अलग-अलग हार्डवेयर की पहचान करता है। 

BIOS का मुख्य कार्य किसी भी कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम को बूट करना होता है, इसे अगर आसान शब्दों में कहा जाए, तो BIOS का कार्य किसी भी कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम को चालू करने का होता है।

बायोस कैसे कार्य करता है? (How BIOS Work In Hindi)

जब भी आप अपने कंप्यूटर को ऑन करते हैं, तो BIOS आपके CMOS सेटिंग की जांच करता है, इसके पश्चात BIOS यह तय करता है कि इसे किस डिवाइस से सिस्टम पोर्ट करवाया जाए, उसके पश्चात यह आपकी ऑपरेटिंग सिस्टम को कॉल करता है तथा आपके कंप्यूटर को स्टार्ट कर दिया जाता है, और उसके साथ आप कंप्यूटर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

तो यहां पर BIOS की पूरी कार्यप्रणाली इसी तरह होती है तथा इसका काम सिर्फ कंप्यूटर को स्टार्ट करना या कंप्यूटर को बूट करना ही होता है।

बायोस कितने प्रकार के होते है? (Types of BIOS In Hindi)

BIOS मुख्य रूप से 2 प्रकार के होते है जो की निम्नलिखित है -:

UEFI – UEFI का फुल फॉर्म Unified Extensible Firmware Interface है जो कि 2.2TB या 2.2 TB से अधिक size वाली drive को support करता है। यह पुराने MBR (Master Boot Record) की जगह नए GPT का उपयोग करता है।  

Legacy BIOS –इस प्रकार के BIOS हमें पुराने motherboard में देखने को मिलते है। पीसी को चालू करने के लिए पुराने मदरबोर्ड में Legacy BIOS का उपयोग किया जाता था। इस प्रकार के BIOS 2.1TB से अधिक वाले drives को support नही करते है।

बायोस के कार्य (Uses of BIOS In Hindi)

किसी भी कंप्यूटर के अंतर्गत BIOS के मुख्य रूप से निम्न कार्य होते हैं :-

1) BIOS setting चेक करना

BIOS का सबसे महत्वपूर्ण तथा सबसे पहला कार्य BIOS की सेटिंग को चेक करना होता है। जब आपका कंप्यूटर स्टार्ट हो जाता है तो उसके बाद BIOS, CMOS के अंतर्गत सभी सेटिंग को चेक करता है। BIOS के द्वारा यह सभी सेटिंग को इस कारण चेक किया जाता है, ताकि आपका कंप्यूटर सही तरीके से वर्क कर सके।

2) कंप्यूटर के अंतर्गत ड्राइवर लोड करना

कंप्यूटर के अंतर्गत ड्राइवर लोड करना भी BIOS का काफी महत्वपूर्ण कार्य होता है, जिसमें कंप्यूटर के स्टार्ट होने के बाद सभी ड्राइवर को BIOS के द्वारा ही आपके कंप्यूटर में लोड किया जाता है, तथा उसके बाद आपके कंप्यूटर में सभी फंक्शन चालू हो जाते हैं, और आप उनका इस्तेमाल कर पाते हैं।

3) कंप्यूटर रजिस्टर को Initialize करना

किसी भी कंप्यूटर के अंतर्गत कंप्यूटर रजिस्टर को Initialize करना भी BIOS का एक काफी महत्वपूर्ण कार्य होता है। आपके कंप्यूटर के अंतर्गत सभी ड्राइवर को लोड करने के बाद BIOS यह कार्य करता है, ताकि आप कंप्यूटर का सही इस्तेमाल कर सकें है। इसके अंतर्गत BIOS यह सुनिश्चित करता है, कि आपके सीपीयू के अंतर्गत रजिस्टर्ड सभी फाइल सही तरह से काम करने योग्य है या फिर नहीं है।

4) Power On Self Test करना

BIOS किसी भी कंप्यूटर के स्टार्ट होने पर Power on self test भी करता है, जिसके अंतर्गत यह आपके कंप्यूटर में उपस्थित सभी हार्डवेयर को टेस्ट करता है, इसको पोस्ट POST भी कहते है।

5) BIOS setup करना

जब भी हम अपने कंप्यूटर स्टार्ट करते समय स्पेशल Key दबाते हैं, तो हमारे सामने सभी सेटिंग ओपन हो जाती है, इसे BIOS Seeting भी कहा जाता है। इन सभी सीटिंग को ओपन करना का कार्य BIOS के द्वारा ही किया जाता है।

इसके अलावा भी BIOS के कई अलग-अलग कार्य होते है। किसी भी कंप्यूटर के अंतर्गत BIOS का मुख्य कार्य उस कंप्यूटर को स्टार्ट करना तथा उसके पीछे की सारी प्रोसेस को कंप्लीट करना होता है। BIOS किसी भी कंप्यूटर के अंतर्गत एक काफी महत्वपूर्ण डिवाइस या सॉफ्टवेयर होता है, और इसके बिना किसी भी कंप्यूटर को बूट करना संभव नहीं है।

बायोस की सेटिंग कैसे ऑन करे? (How To Enable Setting of Bios)

BIOS को access करने के लिए आपको सबसे पहले अपना कंप्यूटर restart करना होगा, जैसे ही आप अपना कंप्यूटर restart करते है ! कंप्यूटर restart होते ही आपके सामने जैसे ही कंप्यूटर screen on होती है वैसे ही आपको अपने कंप्यूटर की कोई भी keyboard shortcut key जैसे Delete, ESC व् F2 आदि दबा सकते है ! जैसे ही आपको कोई भी keyboard की button दबाते है वैसे ही आपके सामने BIOS की setting on हो जाएगी ! इस प्रकार से आप BIOS की settings को आसानी से on कर सकते है !

बायोस को रिसेट कैसे करे? (How to Reset Bios)

यदि आपको कंप्यूटर में कोई भी समस्या हो रही है या फिर आप अपने कंप्यूटर की settings by default पहले जैसे करना चाहते है और आप इसके लिए BIOS को reset करना चाहते है तो आप निमनिखित steps को follow करके BIOS को reset कर सकते है !

  • BIOS को reset करने के लिए सबसे पहले अपने कंप्यूटर की power button को 10 second दबा कर रखे, जब तक की आपका कंप्यूटर off ना हो जाये !
  • कंप्यूटर off होने के बाद आप उसको फिर से on करे, जैसे ही आपका कंप्यूटर on होता है यानि की जैसे ही आपके कंप्यूटर की screen on होती है वैसे ही आप अपने computer को BIOS setting को on करना है !
  • BIOS setting को on करने के लिए आप अपने कंप्यूटर में ESC, Delete आदि कोई भी key दबा सकते है ! 
  • कोई भी key दबाते ही आपके कंप्यूटर की BIOS setting on हो जाएगी यहां आपको Restore Defaults पर click करे और फिर उसके बाद F10 key press कर के अपनी सभी settings को save कर ले और Enter दबा कर BIOS settings से बाहर निकले !

BIOS को अपडेट कैसे करे? (How to Update BIOS)

BIOS version को update करना एक critical process है ! यह आपकी एक छोटी से छोटी गलती की वजह से आपके computer को कुछ चंद ही मिनटों में unbootable कर सकता है ! इसलिए आप इसको जरुरत पड़ने पर ही अपडेट करे 

  • Bios update करने के लिए सभसे पहले आपको Win + R key दबाये और जैसे ही आप सर्च बार में Msinfo32 टाइप करना है वैसे ही आपके सामने एक new screen खुलती है जहां पर आपको BIOS Version दिखाई देगा !
  • अब आपको उस BIOS version के साथ साथ Computer Manufacturer का भी नाम दिखाई देगा ! अब आपको उस Computer Manufacturer की official website पर जाये और वहां पर BIOS version डाउनलोड करके अपडेट कर सकते है ! 

विंडोज 10 में बायोस वर्जन कैसे ऑन करें? (How To Turn On Bios Version In Windows 10)

Windows 10 में BIOS Version चेक करने के लिए निम्नलिखित points को follow करे।

  • Windows 10 में BIOS Version चेक करने के लिए सबसे पहले आपको अपने windows computer में win + R key दबाये।
  • Win + R key दबाते ही आपके सामने एक popup search bar आएगा, जहां पर आपको Msinfo32 type करना है और enter कर देना है। आपके enter करते ही आपके सामने BIOS Version आ जायेगा ।

FAQ – Frequently Asked Question

Q1. बायोस का फुल फॉर्म क्या है? (BIOS Full Form In Hindi)

Ans -: BIOS का फुल फॉर्म Basic Input Output System होता है।

Q2. एक शब्द में बायोस क्या है? (BIOS Meaning In Hindi)

Ans -: BIOS कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है जिसका कार्य किसी भी कंप्यूटर को स्टार्ट करना होता है। जब भी आप कंप्यूटर को स्टार्ट करते हैं, तो यह वर्क करना शुरू कर देता है। BIOS का मुख्य कार्य कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम को बूट करना होता है।

Conclusion

दोस्तों आज के इस आर्टिल्स में हमने BIOS के बारे में बात की और जाना कि BIOS क्या है? (What is BIOS In Hindi) इसके क्या क्या कार्य होते हैं और यह किस तरह से कार्य करता है?

अगर आप कंप्यूटर फंडामेंटल Complete Tutorial चाहते है तो मेरे इस आर्टिकल Computer Fundamental Tutorial In Hindi को देखे | यहाँ आपको कंप्यूटर फंडामेंटल्स के सभी टॉपिक्स step by step मिल जाएगी |

तो दोस्तों आशा करता हूँ कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा और यदि ये आर्टिकल आपको पसंद आया है तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी BIOS Kya Hai के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके .

अगर आपको अभी भी What is BIOS In Computer Hindi से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप कमेंट्स के जरिए हमसे पुछ सकते है। मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

ऐसे ही नया टेक्नोलॉजी ,Computer Science, इंटरनेट, नेटवर्किंग से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब कर दीजिए | जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं जल्दी प्राप्त होगी |

2 Comments

  1. Sir hindi mae notes chahiye

Leave a Reply

Your email address will not be published.