Data Processing क्या है? (What is Data Processing In Hindi)

Data Processing किसी भी कंप्यूटर के अंतर्गत एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया होती है। यदि आप कंप्यूटर टेक्नोलॉजी के विषय में रुचि रखते हैं, तो आपने Data Processing के बारे में तो जरूर सुना होगा। 

तो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले हैं Data Processing Kya Hai? डेटा प्रोसेसिंग कैसे काम करता है? और डेटा प्रोसेसिंग कितने प्रकार के होते है? (Types of Data Processing In Hindi)

तो आइये अब बिना समय गवाए सबसे पहले जानते है कि डेटा प्रोसेसिंग क्या है? (What is Data Processing In Hindi)

डेटा प्रोसेसिंग क्या है? (What is Data Processing In Hindi)

डेटा प्रोसेसिंग क्या है? (What is Data Processing In Hindi)

Data Processing शब्द दो शब्दों से मिलकर बना होता है, Data और Processing, Data का मतलब किसी भी इंफॉर्मेशन के एक समूह से होता है, और Processing शब्द का अर्थ किसी भी खास परिणाम को प्राप्त करने के लिए किए जाने वाले कार्य से होता है।

Data Processing, कंप्यूटर के अंतर्गत इस्तेमाल की जाने वाली एक प्रकार की प्रक्रिया है, जिसके अंतर्गत सबसे पहले Raw Data की जांच की जाती है, उसमे से फिर जिस डेटा की आवश्यकता होती है, या फिर जो डेटा जरूरी होता है, उसे निकाला जाता है, और यह प्रक्रिया डेटा प्रोसेसिंग कहलाती है। 

डेटा प्रोसेसिंग की इस प्रक्रिया के दौरान Raw Data को कई अलग-अलग चरणों से गुजरना होता है। इसे अगर उदाहरण के माध्यम से समझे तो, आपको पता होगा कि किसी भी कंप्यूटर के अंतर्गत बहुत सारा डेटा स्टोर होता है। यदि आपने अपने कंप्यूटर के अंतर्गत काफी डेटा स्टोर किया है, तो उस डेटा में से कोई खास डेटा प्राप्त करने के लिए एक प्रोसेस होती है, और उसे ही Data Processing कहा जाता है। 

आइये Data Processing को हम एक और उदाहरण से समझते है, जैसे कि जब आप अपने कंप्यूटर के अंतर्गत माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस ओपन करना चाहते हैं तो जैसे ही आप उस माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस को ओपन करते हैं, तो आपके कंप्यूटर की हार्ड डिक्स के अंतर्गत माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस का सॉफ्टवेयर होता है, तथा उस सॉफ्टवेयर के अलावा भी आपकी हार्ड डिक्स में काफी सारा डेटा स्टोर होता है। 

जब आपने अपने कंप्यूटर के अंतर्गत माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस ओपन किया है तो आपको सिर्फ माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस के डेटा की ही जरूरत है, तो ऐसे में एक प्रोसेस होती है, जिसके द्वारा सही डेटा को निकाला जाता है, और इसी प्रक्रिया को डेटा प्रोसेसिंग कहते हैं।

तो उम्मीद है, कि आप को अच्छी तरह से समझ आ गया होगा कि Data Processing Kya Hai, तो चलिए दोस्तों अब डेटा प्रोसेसिंग से जुड़ी कुछ अन्य जानकारियां भी प्राप्त कर लेते हैं।

डेटा प्रोसेसिंग कैसे काम करता है? (How Data Processing Works In Hindi)

प्राचीन समय में जब कंप्यूटर का इस्तेमाल किया जाता था, तो उस समय के कंप्यूटर काफी स्लो हुआ करते थे, और इसके पीछे का मुख्य कारण डेटा प्रोसेसिंग ही होता था। 

उस समय डेटा प्रोसेसिंग करने के लिए काफी ज्यादा समय लगता था, किसी भी एक हार्डडिक्स से कोई डेटा को निकालने के लिए काफी समय लगता था तथा कई बार काफी गलतियां भी हो जाती थी। 

कई बार गलत डेटा प्राप्त हो जाता था, तो ऐसे में पहले के समय में डेटा प्रोसेसिंग की प्रक्रिया में काफी ज्यादा समय लगता था, और इसी के चलते उस जमाने में कंप्यूटर में काफी स्लो हुआ करते थे।

आज के समय यह डेटा प्रोसेसिंग की प्रक्रिया काफी ज्यादा फास्ट हो गई है। डेटा प्रोसेसिंग के लिए आजकल कई एडवांस टेक्नोलॉजी के सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जाने लगा है, जो डेटा प्रोसेसिंग को कुछ ही सेकंड के अंतर्गत कर देते हैं। 

आपने अपने कंप्यूटर के अंतर्गत एक्शन नोटिस किया होगा कि जब आप किसी भी प्रोग्राम को ओपन करते हैं, तो वह तुरंत ही ओपन हो जाता है, वह बिल्कुल भी समय नहीं लेता है, तो इसके पीछे का काफी बड़ा कारण यह होता है कि आज के समय डेटा प्रोसेसिंग के लिए काफी ज्यादा एडवांस टेक्नोलॉजी के सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जाता है।

Data Processing के लिए या फिर Raw Data को प्रोसेस करने के लिए अब मुख्य रूप से डाटा प्रोसेसिंग टूल्स का इस्तेमाल किया जाता है। इन टूल्स की सूची में Hadoop, HPCC, Strom, Cassandra जैसे टूल्स का नाम आता है।

इन टूल्स के द्वारा आपके कंप्यूटर में डाटा प्रोसेसिंग की प्रक्रिया को काफी ज्यादा फास्ट कर दिया जाता है। जैसे ही आप अपने कंप्यूटर के अंतर्गत कोई कमांड देते हैं, तो तुरंत इन टूल्स को उसके बारे में जानकारी मिल जाती है और इनके द्वारा डेटा को प्रोसेस करके कंप्यूटर तक पहुंचा दिया जाता है।

Data Processing Meaning in Hindi

डेटा प्रोसेसिंग का मतलब डाटा का विश्लेषण होता है। जिसका अर्थ होता है, कि किसी भी तरीके के डेटा का विश्लेषण करके उसे अच्छी तरह से इस्तेमाल किया जा सके।

डेटा प्रोसेसिंग के प्रकार (Types of Data Processing In Hindi)

डेटा प्रोसेसिंग के मुख्य रूप से तीन प्रकार होते हैं :-

  1. Manual Data Processing
  2. Mechanical Data Processing
  3. Automatic/Electronic Data Processing

1) Manual Data Processing

Data Processing की प्रक्रिया के दौरान जब किसी भी डेटा को मैनुअली प्रोसेस किया जाता है, या फिर डेटा को प्रोसेस करने के लिए किसी भी व्यक्ति का इस्तेमाल किया जाता है, जो उस डेटा को प्रोसेस करता है, तो इस प्रक्रिया को मैनुअल डेटा प्रोसेसिंग कहते हैं।

2) Mechanical Data Processing

मैकेनिकल डेटा प्रोसेसिंग, मशीनों, जैसे कैलकुलेटर, टाइपराइटर, प्रिंटर और मैकेनिकल डिवाइस का इस्तेमाल करके किया गया था। मैकेनिकल डेटा प्रोसेसिंग की सटीकता और विश्वसनीयता मैनुअल डेटा प्रोसेसिंग की तुलना में बेहतर होती है क्योंकि इसमें मैनुअल प्रोसेसिंग की तुलना में कम त्रुटियां होती हैं। हालांकि, बड़ी मात्रा में डेटा के साथ काम करते समय यह विधि उपयुक्त नहीं है।

3) Automatic/Electronic Data Processing

जब भी डेटा प्रोसेसिंग की प्रक्रिया को ऑटोमेटिक किया जाता है, या फिर ऑटोमेटिक टूल्स, सॉफ्टवेयर और प्रोग्राम का इस्तेमाल करके डेटा  प्रोसेसिंग की प्रक्रिया को कंप्लीट किया जाता है, तो इसे Automatic/Electronic Data Processing कहते हैं। 

आज के समय मार्केट में अनेक ऐसे टूल्स मौजूद हैं, जिनके माध्यम से ऑटोमेटिक डेटा प्रोसेसिंग की प्रक्रियाओं का भी आसानी से किया जा सकता है। 

आज जितने भी कंप्यूटर मौजूद है उस में मुख्य रूप से ऑटोमेटिक डेटा प्रोसेसिंग का ही इस्तेमाल किया जाता है, क्योंकि यह प्रक्रिया काफी ज्यादा फास्ट होती है। 

जब आप मैनुअल डेटा प्रोसेसिंग करते है, तो इसमें आपका काफी ज्यादा समय व्यतीत हो जाता है, इसके अलावा यह प्रक्रिया करने के लिए आपको किसी व्यक्ति की जरूरत पड़ती है। जबकि ऑटोमेटिक डेटा प्रोसेसिंग के अंतर्गत आपको किसी भी व्यक्ति की जरूरत नहीं पड़ती है, क्योंकि इसके अंतर्गत सारी प्रक्रिया ऑटोमेटिक होती है।

डेटा प्रोसेसिंग के तरीके (Methods of Data Processing In Hindi)

डेटा प्रोसेसिंग के तरीके निम्नलिखित है -: 

  • Single user programming
  • Multiple programming
  • Real-time processing
  • On-line processing
  • Time sharing processing
  • Distributed processing

डेटा प्रोसेसिंग चक्र/चरण (Data processing Cycle/Stages)

डेटा प्रोसेसिंग की प्रक्रिया मुख्यतः इन छः चरणों से होकर पूर्ण होती है। 

  • Data Collection
  • Data Preparation
  • Data Input
  • Data Processing
  • Data Output
  • Data Storage

तो दोस्तों यह डेटा प्रोसेसिंग के मुख्य छः चरण है जिनसे होकर Data Processing की प्रक्रिया कम्पलीट होती है।  

Conclusion 

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमनें Data Processing के बारे में बात की और जाना कि डेटा प्रोसेसिंग क्या है? (What is Data Processing In Hindi)  डेटा प्रोसेसिंग कैसे काम करता है? (How Data Processing works in Hindi) और डेटा प्रोसेसिंग कितने प्रकार के होते है? (Types of Data Processing In Hindi)

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आया है तो इस पोस्ट को अपने अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलिएगा ताकि उनको भी Data Processing Kya Hai के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके .

अगर आपको अभी भी Data Processing In Hindi से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप कमेंट्स के जरिए हमसे पुछ सकते है। मैं आपके सभी सवालों का जवाब दूँगा और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है |

ऐसे ही नया टेक्नोलॉजी, Computer Science से रिलेटेड जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब कर दीजिए | जिससे हमारी आने वाली नई पोस्ट की सूचनाएं जल्दी प्राप्त होगी |

Jeetu Sahu is A Web Developer | Computer Engineer | Passionate about Coding, Competitive Programming and Blogging

Leave a Comment

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.